जोधपुर हाईकोर्ट से राबर्ट वाड्रा को झटका

शुक्रवार को जोधपुर हाईकोर्ट ने स्काईलाइट हॉस्पिटलिटी के महेश नागर और दूसरे कर्मचारियों को ईडी के सामने पेश होने के आदेश दिए हैं।

  • News18India
  • Last Updated: December 17, 2016, 12:50 PM IST
  • Share this:
जोधपुर। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के दामाद राबर्ट वाड्रा की मुश्किलें बढ़ती हुई नजर आ रही हैं। शुक्रवार को जोधपुर हाईकोर्ट ने स्काईलाइट हॉस्पिटलिटी के महेश नागर और दूसरे कर्मचारियों को ईडी के सामने पेश होने के आदेश दिए हैं। हाईकोर्ट ने आदेश दिया है कि स्काईलाइट हॉस्पिटलिटी कंपनी के कर्मचारी 4 जनवरी से पहले ईडी में पेश होकर अपना बयान दर्ज कराएं।

प्रवर्तन निदेशालय की ओर से दिए गए समन के खिलाफ दायर अपराधिक रिट याचिका पर राजस्थान हाईकोर्ट में सुनवाई के दौरान ये आदेश दिया। यह बयान 4 से 6 जनवरी के बीच लिए जाएंगे।

बता दें कि स्काईलाइट हॉस्पिटलिटी राबर्ट वाड्रा की कंपनी है और ईडी स्काईलाइट हॉस्पिटलिटी के बीकानेर में किए गए जमीन सौदों की जांच कर रही है। वहीं इस पूरे मामले में कांग्रेस एक बार फिर राबर्ट वाड्रा के साथ खड़ी नजर आ रही है। कांग्रेस का कहना है कि अभी तक की जांच में राबर्ट वाड्रा के खिलाफ कुछ भी नहीं निकला है। कांग्रेस नेता संदीप दीक्षित ने कहा कि जांच प्रक्रिया चल रही है। सरकार ने बहुत कोशिश की कि राबर्ट वाड्रा की के खिलाफ कुछ बड़ा मिल जाए लेकिन ऐसा कुछ मिला नहीं।



वहीं बीजेपी नेता सुब्रह्मण्यम स्वामी का कहना है कि देर-सबेर राबर्ट वाड्रा पर सख्त कार्रवाई होगी। उन्होंने कहा कि ऐसे ही लोगों को पकड़ना चाहिए। वाड्रा माहिर हैं वो चोरी में अपना दस्तखत बहुत कम जगह पर लगाते हैं। उन्होनें कहा कि राबर्ट वाड्रा के इर्द-गिर्द जो लोग हैं उसको ही पकड़ना चाहिए। अंत में वाड्रा ही जेल जाएंगे।
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज