लाइव टीवी

ओवैसी की इस मांग पर शिवसेना ने भी मिलाए सुर

News18India.com
Updated: July 31, 2015, 12:54 PM IST
ओवैसी की इस मांग पर शिवसेना ने भी मिलाए सुर
शिवसेना के मुखपत्र सामना में लिखा गया गया है कि किसी भी जाति या धर्म से ताल्लुक रखने वाले आतंकियों को फांसी की सजा दी जानी चाहिए।

शिवसेना के मुखपत्र सामना में लिखा गया गया है कि किसी भी जाति या धर्म से ताल्लुक रखने वाले आतंकियों को फांसी की सजा दी जानी चाहिए।

  • Share this:
नई दिल्ली। एमआईएम अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी की तर्ज पर शिवसेना ने भी सवाल उठाया है कि पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी और बेअंत सिंह के हत्यारों और दूसरे आतंकियों को फांसी पर क्यों नहीं लटकाया जाता। शिवसेना ने सामना में लेख लिखकर इन्हें फांसी न देने पर सवाल उठा हैं।

सामना में ओवैसी की आलोचना भी की गई है। शिवसेना के मुखपत्र सामना में लिखा गया गया है कि किसी भी जाति या धर्म से ताल्लुक रखने वाले आतंकियों को फांसी की सजा दी जानी चाहिए। पार्टी ने याकूब मेमन की फांसी को राजनीतिक रंग देने के लिए ओवैसी की आलोचना की, लेकिन राजीव गांधी और बेअंत सिंह के हत्यारों को फांसी दिए जाने की मांग का समर्थन किया।

दाऊद और टाइगर को फांसी देने की मांग 

महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ बीजेपी की सहयोगी पार्टी शिवसेना ने दाऊद इब्राहिम और टाइगर मेमन को भी फांसी देने की मांग की। सामना में लिखा गया है कि दाऊद और टाइगर मेमन जैसे लोग जब यमलोक जाएंगे, तभी उन आत्माओं को पूर्ण शांति की प्राप्ति होगी और उन्हें मोक्ष मिलेगा। पार्टी ने यह भी कहा कि याकूब की जगह पर अगर कोई हिंदू, ईसाई या पादरी होता तो उसे भी फांसी पर लटकाया जाना चाहिए था। याकूब मेमन को गुरुवार सुबह नागपुर जेल में फांसी दी गई थी और उसे मुंबई में दफनाया गया था।

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पॉलिटिक्स से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 31, 2015, 10:49 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर