लाइव टीवी

तोहफे में नहीं दिया था कोहिनूर, अंग्रेजों ने धोखे से हासिल किया: स्वामी

News18India.com
Updated: April 18, 2016, 3:00 PM IST
तोहफे में नहीं दिया था कोहिनूर, अंग्रेजों ने धोखे से हासिल किया: स्वामी
कोहिनूर हीरा वापस लाए जाने के मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट में भारत सरकार के रुख पर सियासी घमासान मचा हुआ है। खुद बीजेपी के नेता ही इससे सहमत नजर नहीं आ रहे हैं।

कोहिनूर हीरा वापस लाए जाने के मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट में भारत सरकार के रुख पर सियासी घमासान मचा हुआ है। खुद बीजेपी के नेता ही इससे सहमत नजर नहीं आ रहे हैं।

  • Share this:
नई दिल्ली। कोहिनूर हीरा वापस लाए जाने के मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट में भारत सरकार के रुख पर सियासी घमासान मचा हुआ है। खुद बीजेपी के नेता ही इससे सहमत नजर नहीं आ रहे हैं। बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा है कि अंग्रेजों ने इसे चालाकी से हासिल किया।

स्वामी ने भारत सरकार के दावों के उलट कहा कि वो तोहफा नहीं था। जब अंग्रेज रणजीत सिंह के खिलाफ लड़े थे तो एक कर्नल ने इसे हासिल किया और इसे चुपचाप अपने पास रखा। कर्नल ने लॉरेंस को दिया जो जनरल बने। लॉरेंस ने इसे शाही परिवार को दे दिया।

स्वामी ने दावा किया कि रणजीत सिंह के बाद जब बालक दिलीप सिंह लंदन आए तो वो काफी छोटे थे। उनके हाथ में कोहिनूर देकर कहा कि इसे भेंट कर दीजिए। वो तो बच्चे थे, उन्हें क्या पता कि  उन्होंने ऐसा कर दिया, पर ये एक फ्रॉड था।

वहीं आरएसएस का रुख भी सरकार से अलग है। संघ नेता इंद्रेश कुमार ने कहा कि कोहनूर हीरा भारत की संपत्ति है। वो भारत के पास रहे इसकी आवश्यकता है।

 

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पॉलिटिक्स से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 18, 2016, 3:00 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...