लाइव टीवी

कांग्रेस के साथ आने पर ही यूपी में महागठबंधन का हिस्सा बनेगा आरएलडी

अमित पांडेय | News18India.com
Updated: October 28, 2016, 3:57 PM IST
कांग्रेस के साथ आने पर ही यूपी में महागठबंधन का हिस्सा बनेगा आरएलडी
दक्षिण दिल्ली के पॉश इलाके वसंत कुंज के पास आलीशान फार्म हाउस। यहां छोटे चौधरी यानि चौधरी अजीत सिंह...

दक्षिण दिल्ली के पॉश इलाके वसंत कुंज के पास आलीशान फार्म हाउस। यहां छोटे चौधरी यानि चौधरी अजीत सिंह...

  • Share this:
नई दिल्ली। दक्षिण दिल्ली के पॉश इलाके वसंत कुंज के पास आलीशान फार्म हाउस। यहां छोटे चौधरी यानि चौधरी अजीत सिंह और उनके बेटे छोटे साहब यानि पूर्व आरएलडी सांसद जयंत चौधरी रहते हैं। चौधरी परिवार अपने राजनीतिक वजूद को बचाए रखने की इस वक्त अपनी सबसे मुश्किल लड़ाई लड़ रहा है।

एक ओर जहां राष्ट्रीय लोकदल के गठन के बाद अब तक के उसके सबसे कम 8 विधायक ही रह गए हैं, वहीं दूसरी ओर पार्टी का एक भी सांसद नहीं है। हालांकि पार्टी के गढ़ पश्चिमी उत्तर प्रदेश के बड़ौत में कुछ दिन पहले बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और अन्य छोटे दलों के साथ पार्टी ने एक रैली की थी, लेकिन उन दलों की उत्तर प्रदेश की राजनीति में क्या हैसियत है ये सबको पता है।

शुक्रवार सुबह उत्तर प्रदेश समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल जैसे ही इस घर पहुंचे, एक बार फिर इस पार्टी के लिए उम्मीद की नई किरण नजर आई। हालांकि शिवपाल की अजीत सिंह के साथ मुलाकात 5 नवंबर को सपा की रजत जयंती समारोह के न्योते को लेकर थी। अब ये साफ हो गया कि 5 नवंबर को सपा का जब रजत जयंती समारोह हो रहा होगा, तब एक साथ मंच पर सपा, आरएलडी और जेडीयू के नेता होंगे

करीब 40 मिनट तक बंद कमरे में अकेले अजीत सिंह और शिवपाल मिल रहे थे तो बाहर दोनों के बेटे जयंत और आदित्य ने भी बातें कीं। बैठक के बाद शिवपाल ने अपने आने की वजह बताई और ये भी साफ कर दिया कि कांग्रेस से भी आगे की बातचीत से इंकार नहीं किया जा रहा है। वहीं आरएलडी मुखिया ने ये भी उम्मीद जताई कि सपा का परिवारिक विवाद जल्द खत्म हो जाएगा।

हालाकि कांग्रेस के साथ आरएलडी भी महागठबंधन करने के पक्ष में है, लेकिन अगर कांग्रेस इस  महागठबंधन में शामिल नहीं होगी तो आरएलडी का बड़ा तबका सपा की इस पहल में शामिल  होने के पक्ष में नहीं है। पार्टी के नेता कहते हैं कि वजह साफ है कि क्यों सपा के साथ सिर्फ वही सत्ताविरोधी लहर झेलेगी।

आईबीएन खबर से बातचीत में आरएलडी को पूर्व सांसद जयंत चौधरी ने भी कहा कि ये तो बहुत  शुरुआती दौर है और सही वक्त पर सही राजनीतिक फैसला लिया जाएगा यानि यूपी चुनाव की राजनीतिक फिल्म का ये तो केवल ट्रेलर भर है, पूरी पिक्चर तो अभी बाकी है जिसमें कई उतार चढ़ाव देखने को मिलेंगे।

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए यूपी इलेक्शन 2017 से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 28, 2016, 3:18 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...