105 साल की महिला ने परिवार के साथ लगवाई कोरोना वैक्सीन, कहा-महामारी से बचाव का ये एक मात्र उपाय

परिवार ने जानकारी देते हुए बताया कि 105 साल की माता करतार कौर ने अपनी इच्छा और दृढ़ शक्ति के बल पर टीकाकरण करवाया है.

परिवार ने जानकारी देते हुए बताया कि 105 साल की माता करतार कौर ने अपनी इच्छा और दृढ़ शक्ति के बल पर टीकाकरण करवाया है.

Punjab Latest news in Hindi: माता करतार कौर के इस जज़्बे की सराहना करते हुए डिप्टी कमिश्नर सन्दीप (Deputy Commissioner Mr Sandeep Hans) हंस ने 45 साल से अधिक उम्र के लोगों से अपील की कि वह हर तरह के भ्रम को दरकिनार अपना और अपने परिवार का टीकाकरण करवाएं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 11, 2021, 5:57 PM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. विश्व भर में फैली कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus) से बचाव के लिए टीकाकरण (worldwide vaccination campaign) की मुहिम पूरे जोरों से जारी है. भारत सरकार की हिदायतों पर पंजाब में भी 45 साल से अधिक उम्र वाले हर व्यक्ति का टीकाकरण किया जा रहा है. इस टीकाकरण का जहां पढ़े-लिखे और बुद्धिमान लोगों द्वारा पूर्ण सहयोग दिया जा रहा है वहीं अज्ञानता के प्रभाव अधीन कुछ लोग इस टीकाकरण संबंधी भ्रम और अफवाहें पैदा कर रहे हैं.

ऐसे मौके पर शहर मोगा की एक 105 सालों की महिला करतार कौर (105-year-old Mata Kartar Kaur) ने लोगों को जागरूक करने के लिए प्रेरणा स्रोत बनीं हैं. जहां उन्होंने खुद टीकाकरण करवाया है, वहीं उसके 80 सालों के पुत्र और पूरे परिवार ने भी लोगों में जागरूकता का संदेश दिया है.

परिवार सहित पहुंची थी टीका लगवाने

माता करतार कौर (105-year-old Mata Kartar Kaur) भले ही मोगा के गांव भिंडर खुर्द (village Bhinder Khurd) से संबंध रखती हैं परन्तु अब वह अपने पुत्र हरपिन्दर सिंह के पास मोगा (Moga) में रह रही हैं. बीते दिनों माता ने अपने परिवार समेत वार्ड नंबर 3 में लगे कैंप में टीकाकरण करवाया. यह कैंप उनके दोहते और पूर्व काऊंसलर मनजीत सिंह मान के नेतृत्व में लगाया गया था. इस कैंप में 188 से अधिक लोगों को टीका लगाया गया था. मौजूदा समय में मनजीत सिंह मान की पत्नी अमनप्रीत कौर मान वार्ड नंबर 3 की काऊंसलर हैं.
ये भी पढ़ेंः- महाराष्ट्र में 15 दिन का लॉकडाउन लगाने पर आज फैसला कर सकते हैं सीएम उद्धव- जानें सर्वदलीय बैठक की Inside Story

टीका लगवाने के बाद न बुखार हुआ न कोई समस्या

परिवार ने जानकारी देते हुए बताया कि माता करतार कौर ने अपनी इच्छा और दृढ़ शक्ति के बल पर टीकाकरण करवाया है. उन पर किसी ने भी टीकाकरण करवाने का दबाव नहीं डाला था. माता करतार कौर की यह सोच है कि इस बीमारी से बचने के लिए टीकाकरण करवाना अनिवार्य है. माता करतार कौर का यह भी कहना है कि यदि अभी कुछ लोगों की टीके के लिए बारी नहीं भी आई है तो उनको सरकार और स्वास्थ्य विभाग की हिदायतों की पालना करनी चाहिए. उन्होंने कहा कि उनको टीका लगवाने के बाद न तो बुख़ार हुआ और न ही कोई अन्य समस्या पेश आई है. उन्होंने कहा कि एक तंदुरुस्त व्यक्ति को किसी भी तरह की कोई समस्या आने का कोई डर ही नहीं है.





जज़्बे को डीसी और लोगों ने सराहा

माता करतार कौर के इस जज़्बे की सराहना करते हुए डिप्टी कमिश्नर सन्दीप (Deputy Commissioner Mr Sandeep Hans) हंस ने 45 साल से अधिक उम्र के लोगों से अपील की कि वह हर तरह के भ्रम को दरकिनार अपना और अपने परिवार का टीकाकरण करवाएं. उन्होंने कहा कि यह टीकाकरण सिविल अस्पताल मोगा, सभी सीएचसीज, 91 हैल्थ वैलनैस सैंटरों में किया जा रहा है. इसके अलावा विभिन्न क्षेत्रों में विशेष कैंप भी लगाए जा रहे हैं. जिनका लोगों को भारी लाभ लेना चाहिए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज