अपना शहर चुनें

States

Kisan Andolan: किसान आंदोलन में शामिल होने के लिए 1500 ट्रैक्टर ट्रॉलियों के साथ आ रहे 30,000 किसान

किसान मजदूर संघर्ष समिति (KMSC) के अनुसार पंजाब के प्रदर्शनकारियों का एक नया काफिला दिल्ली आ रहा है. (फाइल फोटो)
किसान मजदूर संघर्ष समिति (KMSC) के अनुसार पंजाब के प्रदर्शनकारियों का एक नया काफिला दिल्ली आ रहा है. (फाइल फोटो)

Kisan Andolan : किसान आंदोलन अब और तेज होने के आसार दिख रहे हैं. किसान मोर्चा संघर्ष समिति (KMSC) के नेताओं के अनुसार 30,000 और किसान दिल्ली आ रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 12, 2020, 9:01 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली/ चंडीगढ़. केंद्र सरकार के तीन किसान कानूनों (Farm Laws) के खिलाफ आंदोलित किसान अब अपनी लड़ाई और तेज करने  (Kisan Andolan) के मूड में हैं. भारतीय किसान यूनियन (Bharatiya Kisan Union) के अध्यक्ष बलबीर. एस. राजेवाल (Balbir S Rajewal) ने कहा है कि हम 12 दिसंबर को दिल्ली-जयपुर रोड ब्लॉक करेंगे. उन्होंने कहा है कि डिप्टी कलेक्टर के दफ्तरों, बीजेपी नेताओं के घरों के सामने प्रदर्शन करेंगे. साथ ही हम टोल प्लाजा ब्लॉक कर देंगे. हालांकि रेलवे सेवाओं पर असर ना डाले जाने की बात कही जा रही है.

दूसरी ओर पंजाब सात जिलों के लगभग 1,000 गांवों से 1,500 से अधिक वाहन, जिनमें 1,300 ट्रैक्टर-ट्रॉलियां दिल्ली की ओर आ रही है.  किसान मजदूर संघर्ष समिति (KMSC) के अनुसार पंजाब के प्रदर्शनकारियों का एक नया काफिला आ रहा है, जिसके रविवार तक दिल्ली सीमा तक पहुंचने की उम्मीद है. बता दें KSMC ही पहला किसान संगठन था जिसने केंद्र की मोदी सरकार के किसान कानूनों के खिलाफ आंदोलन शुरू किया था.

कहां पहुंचेगा ये काफिला?
द इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार KSMC के नेताओं ने बताया कि कई समूहों में काफिला दो सप्ताह पहले कोंडली से लगी सीमा पर पहुंचने वाले प्रदर्शनकारियों के पहले समूह की जगह लेगा. रिपोर्ट के अनुसार KMSC के अध्यक्ष सतनाम सिंह पन्नू ने कहा कि दिल्ली की सीमाओं पर पहले से ही लोगों का बड़ा हूजूम है लेकिन हम रास्ता खोज लेंगे. अगर हमें जगह नहीं मिलती है, तो हम जहां भी रुक सकते हैं रुकेंगे. इसके अलावा हम कोंडली में पहले से ही रुके हुए हैं. हम वहां पहले से मौजूद उन लोगों की जगह लेंगे, जो घर लौटेंगे.
पन्नू ने कहा कि काफिले में अमृतसर, गुरदासपुर, तरन तारन, जालंधर, होशियारपुर, फिरोजपुर और मोगा के प्रदर्शनकारी हैं. एक-दूसरे के साथ वे राष्ट्रीय राजमार्ग 1 पर लुधियाना स्थित डोरा में लगभग 5 बजे इकट्ठा हुए. वे छोटे समूहों में आगे बढ़ेंगे ताकि राजमार्ग पर भीड़भाड़ न हो.'



हम दिल्ली के मौसम के लिए तैयार- KMSC नेता
KMSC  नेताओं का अनुमान है कि काफिले में 1,000 कारों के साथ ट्रैक्टर-ट्रॉलियों पर लगभग 30,000 प्रदर्शनकारियों  आ रहे हैं. वहीं जिला के आलाअधिकारियों ने कहा कि वे प्रदर्शनकारियों और दिल्ली की ओर जाने वाले वाहनों की गिनती नहीं कर रहे. KMSC के प्रेस सचिव बलजिंदर सिंह संधू ने कहा कि नया काफिला लंबे समय तक टिकेगा. हम राशन, रजाई, कपड़े, एलपीजी सिलेंडर, बाल्टियाँ आदि लेकर आ रहे हैं. हमारी ट्रॉलियाँ वाटरप्रूफ शीट्स से ढकी हुई हैं और हम दिल्ली के मौसम के लिए तैयार हैं.

पन्नू ने कहा कि काफिला शनिवार दोपहर तक दिल्ली की सीमा पर पहुंचने से पहले हरियाणा के शाहबाद मारकंडा में रुकेगा. यह यात्रा अब रुकेगी नहीं. केंद्र को जून-जुलाई में हमारी बात सुननी चाहिए थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज