पंजाब: 45 साल से अधिक उम्र के 48 हजार से ज्यादा लोगों ने लगवाया पहला कोरोना टीका

पंजाब में 1,46,201 हैल्थ केयर वर्कर और 2,13,305 अग्रिम पंक्ति वाले वर्करों को पहला टीका लगाया जा चुका है

पंजाब में 1,46,201 हैल्थ केयर वर्कर और 2,13,305 अग्रिम पंक्ति वाले वर्करों को पहला टीका लगाया जा चुका है

पंजाब सरकार (overnment of Punjab) की तरफ से प्राथमिकता वाले समूहों के टीकाकरण (vaccination) में तेजी लाने के लिए अप्रैल महीने में सप्ताह के सभी (सात) दिन सहित छुट्टियों वाले दिनों में भी टीकाकरण करने की हिदायतें जारी की गई हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 2, 2021, 12:10 PM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. पंजाब सरकार की तरफ से 1 अप्रैल से 45 साल से अधिक उम्र की आबादी के लिए कोविड-19 टीकाकरण मुहिम (COVID-19 vaccination drive) की शुरुआत की गई. राज्य भर में 48 हजार से ज्यादा लोगों ने वैक्सीन की पहली खुराक का टीका लगवाया है. राज्य स्वास्थ्य मंत्रालय (State Health Ministery) के मुताबिक 1,46,201 हैल्थ केयर वर्कर और 2,13,305 अग्रिम पंक्ति वाले वर्करों को पहला टीका लगाया जा चुका है.

60 साल से अधिक उम्र वाले 4,51,029 योग्य व्यक्तियों ने पहला टीका लगवाया और कुल 1,08,994 व्यक्तियों ने गुरुवार को वैक्सीन की दूसरी खुराक ली है. प्राथमिकता वाले समूहों के टीकाकरण में तेजी लाने के लिए अप्रैल महीने में सप्ताह के सभी (सात) दिन सहित गजटिड छुट्टियों वाले दिनों में भी टीकाकरण करने की हिदायतें जारी की गई हैं.

स्वास्थ्य मंत्री स. बलबीर सिंह सिद्धू ने कोविड-19 टीकाकरण के लिए योग्य लाभपात्रियों के साथ साथ एन.जी.ओज और वैलफेयर क्लबों को भी अपील की कि वह इस मुहिम के अंतर्गत अधिक से अधिक लोगों को कवर करने के उद्देश्य से आगे आएं. उन्होंने कहा कि मौजूदा समय में टीकाकरण हमारे लोगों की कीमती जानों को बचाने का एकमात्र रास्ता है और विश्व स्वास्थ्य संगठन के अध्ययन के अनुसार जब तक विश्व की 70 प्रतिशत आबादी का कोविड -19 टीकाकरण नहीं हो जाता तब तक इस वायरस के फैलने का खतरा है. उन्होंने भरोसा दिया कि कोविशील्ड और कोवैकसीन दोनों सुरक्षित और प्रभावी टीके हैं.
इसे भी पढ़ें :- तीसरे चरण के पहले दिन 15.28 लाख लोगों को लगे टीके, 6.75 करोड़ लोगों का हुका है वैक्सीनेशन



महामारी को फैलने से रोकने और मौतों की संख्या घटाने के लिए टीकाकरण एक महत्वपूर्ण साधन है. उन्होंने बताया कि टीकाकरण के लिए दो खुराकों का शड्यूल है, जहां कोविशील्ड की दूसरी खुराक पहली खुराक के 6-8 हफ्तों बाद दी जाती है जबकि कोवैकसीन की दूसरी खुराक 4 हफ्तों बाद दी जाती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज