लाइव टीवी

पंजाब में 30,000 लोगों को किया आइसोलेट, घर-घर पहुंचाया जाएगा खाना-पीने का सामान
Chandigarh-Punjab News in Hindi

News18Hindi
Updated: March 25, 2020, 9:50 AM IST
पंजाब में 30,000 लोगों को किया आइसोलेट, घर-घर पहुंचाया जाएगा खाना-पीने का सामान
कैप्टन अमरिंदर सिंह देश के पहले मुख्यमंत्री थे, जिन्होंने लॉकडाउन के दौरान शराब बेचने की इजाजत मांगी थी.

पंजाब (Punjab) में मंगलवार को छह और लोगों के कोरोना वायरस (Coronavirus) से संक्रमित होने की पुष्टि हुई, जिससे राज्य में ऐसे मामलों की संख्या बढ़कर 29 हो गई.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 25, 2020, 9:50 AM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. पंजाब (Punjab) सरकार ने कोरोना वायरस (Coronavirus) प्रभावित देशों से राज्य वापस लौटे 94,000 अप्रवासी भारतीय (NRIs) की पहचान कर ली है. इसमें से करीब 30 हजार लोगों को आइसोलेशन में रखा गया है. मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने एक आधिकारिक बयान में कहा कि 'हाल ही में 94,000 से अधिक लोग विदेश से लौटे हैं. उनमें से लगभग 30 हजार लोगों का पता लगाकर उन्हें अलग कर दिया गया है. कैप्टन ने कहा, 'बड़ी संख्या में लोग इस बीमारी (कोरोना वायरस) से बुरी तरह प्रभावित देशों से लौटे हैं. उनमें से कई लोग यहां इस बीमारी के लक्षण ला सकते हैं.' उन्होंने कहा कि ऐसे हालात में सामाजिक दूरी बनाए रखना और विदेश से लौटे लोगों का पता लगाकर उनका इलाज कराना बेहद जरूरी है.'

मुख्यमंत्री ने एक विज्ञप्ति जारी कर कहा कि लॉकडाउन के दौरान सभी जिलों के जिलाधिकारियों को कहा गया है कि वह सभी घरों तक दूध और सब्जी पहुंचाने का इंतजाम करें. कैप्टन ने आदेश दिया है कि कर्फ्यू और होम क्वॉरेंटाइन उल्लंघन करने वालों से सख्ती से निपटा जाए. उन्होंने कहा कि रेहड़ी वालों के जरिए दूध-ब्रेड-बिस्किट जैसी चीजें हर सुबह घर-घर तक पहुंचाई जाए. अमरिंदर सिंह ने कहा कि मौजूदा हालात में कर्फ्यू लगाना जरूरी है. राष्ट्र और खुद के हित में लोग सहयोग करें.

मामलों की संख्या बढ़कर 29 
पंजाब में मंगलवार को छह और लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई, जिससे राज्य में ऐसे मामलों की संख्या बढ़कर 29 हो गयी. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि सभी छह लोग नवांशहर के 70 साल के एक वृद्ध के संपर्क में आए थे. कोरोना वायरस से संक्रमित वृद्ध की पिछले हफ्ते दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गयी.



अधिकारियों ने बताया कि तीन लोग मृतक वृद्ध के परिवार से हैं, जबकि शेष तीन जालंधर में फिल्लौर के निवासी हैं. उन सभी को एक सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. 21 लोग जर्मनी से लौटे वृद्ध के संपर्क में आने से संक्रमित हुए हैं.



अधिकारियों ने लोगों से अपील की थी कि वे लोग खुद ही जांच करा लें. अब तक कुल 282 नमूनों का परीक्षण किया गया है उनमें से 220 की रिपोर्ट नकारात्मक रही जबकि 33 नतीजों का इंतजार है.

यह भी पढ़ें: ताली बजाने से काम नहीं होगा, चिकित्सा पेशेवरों के लिए सुरक्षित माहौल हो: आईएमए

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ (पंजाब) से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 25, 2020, 9:28 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading