पंजाब में 25 लाख लोगों के खिलाफ मास्क न पहनने पर कार्रवाई, 5 हजार किए जा चुके हैं गिरफ्तार

पंजाब में 25 लाख लोगों के खिलाफ मास्क न पहनने पर कार्रवाई.

पंजाब में 25 लाख लोगों के खिलाफ मास्क न पहनने पर कार्रवाई.

पंजाब पुलिस द्वारा 3000 से अधिक फूड पैकेट कोविड प्रभावित परिवारों के घर पहुंचाए गए हैं. इनमें 2721 पके हुए और 280 अनपके हुए खाने के पैकेट शामिल थे. राज्य में कोई भी नागरिक भूखा न सोए और उन्होंने सभी पीड़ित नागरिकों को 112 या 181 डायल करके मुफ़्त खाना प्राप्त करने की अपील की है.

  • Share this:

चंडीगढ़. पंजाब (Punjab) में कोविड गाइडलाइन्स (Covid Guidelines) का पालन करवाने के लिए मार्च माह से अब तक 25 लाख लोगों के खिलाफ मास्क (Mask) न पहनने पर कार्रवाई की है. इसके अलावा 1 लाख 30 हजार लोगों के चालान करके करीब 12 करोड़ रुपए के जुर्माने किए जा चुके हैं. पुलिस ने लॉकडाउन ( Lockdown)का उल्लंघन करने के विरुद्ध 4300 मुकदमे दर्ज किए हैं और 5,000 लोगों को गिरफ्तार करके छोड़ा भी है. पंजाब के डीजीपी दिनकर गुप्ता (Punjab DGP Dinkar Gupta) ने बताया कि लोगों के अंदर-बाहर आने जाने पर नजर रखने के लिए 60 प्रतिशत गांवों में ठीकरी पहरे लगाए जा रहे हैं. उन्होंने विश्वास दिलाया कि आने वाले कुछ दिनों में स्थिति में सुधार आएगा.

पंजाब पुलिस द्वारा 3000 से अधिक फूड पैकेट कोविड प्रभावित परिवारों के घर पहुंचाए गए हैं. इनमें 2721 पके हुए और 280 अनपके हुए खाने के पैकेट शामिल थे. राज्य में कोई भी नागरिक भूखा न सोए और उन्होंने सभी पीड़ित नागरिकों को 112 या 181 डायल करके मुफ़्त खाना प्राप्त करने की अपील की है. दिनकर गुप्ता ने बताया कि स्कीम की शुरूआत के पहले ही दिन पुलिस विभाग द्वारा कोविड कैंटीनों की स्थापना 24 घंटों से भी कम समय में की गई थी और इस स्कीम के पहले ही दिन 120 से अधिक पके व अनपके खाने के पैकेट बांटे गए थे.


उन्होंने आगे कहा कि 14 मई से 20 मई, 2021 तक भोजन हेल्पलाइन नंबरों पर खाने के अनुरोधों के लिए कुल 385 कॉल आई थीं. एक उदाहरण का हवाला देते हुए उन्होंने बताया कि पठानकोट पुलिस को झुग्गियों में रहने वाली एक महिला का फोन आया जिसने कहा कि उनके पास राशन खरीदने के लिए पैसे नहीं हैं जिस पर कार्यवाही करते हुए पुलिस टीम ने तुरंत उस क्षेत्र में रहने वाले 25 सदस्यों को राशन दिया.
इसे भी पढ़ें :- Lockdown News : दिल्ली में कोरोना से जंग अभी बाकी है, एक हफ्ते के लिए और रहेगा लॉकडाउन- अरविंद केजरीवाल

होशियारपुर के टांडा क्षेत्र में दैनिक वेतन भोगी मजदूरों के एक परिवार की विनती के बाद डीएसपी गुरप्रीत सिंह ने प्रभावित परिवार को निजी तौर पर फल, दूध और रोटी समेत नाश्ता पहुंचाया. स्थानीय सरपंच को भी उनकी स्थिति संबंधी पता चला और फिर वह स्वेच्छा से परिवार की देखभाल करने के लिए आए.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज