अमृतसर: चर्च में घुसकर शख्स ने की ओपन फायरिंग, 1 व्यक्ति की मौत, 1 घायल

सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर

Open Firing in Church : मौके पर मौजूद लोगों का कहना है कि घटना में मारे गए शख्स और आरोपी पहले से ही एक-दूसरे को जानते थे. उनके बीच जब बहस हुई तो ऐसा लग रहा था कि दोनों में किसी बात को लेकर रंजिश है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 24, 2020, 7:23 AM IST
  • Share this:
अमृतसर. पंजाब (Punjab) के अमृतसर (Amritsar) स्थित एक स्थानीय चर्च में उस वक्त हड़कंप मच गया जब वहां खुलेआम फायरिंग हुई. बताया जा रहा है कि शुक्रवार शाम एक शख्स अपने सात-आठ साथियों के साथ मिलकर चर्च में घुस गया और फायरिंग ( open firing in Church) कर दी. हवाई फायरिंग में एक शख्स की मौत हो गई, जबकि एक घायल हो गया. रिपोर्ट्स के मुताबिक, प्रिंस और मनोज नाम के लोग अमृतसर के गढ़वाली गेट के पास श्री गुरु राम दास नदर में एक चर्च में शुक्रवार दोपहर को गए थे. यहां रणदीप सिंह गिल नाम का शख्स सात और लोगों के साथ आया और उनके बीच बहस हो गई और गिल ने फायरिंग कर दी.

घटना में मारे गए युवक का नाम प्रिंस बताया जाता है और उसका भाई मनोज गंभीर रूप से घायल हुआ है. चर्च में फायरिंग की जानकारी मिलते ही मौके पर पुलिस पहुंची. मृतकों के परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने हमलावरों की तलाश शुरू कर दी है.

आपसी रंजिश का है मामला!
मौके पर मौजूद लोगों का कहना है कि घटना में मारे गए शख्स और आरोपी पहले से ही एक-दूसरे को जानते थे. उनके बीच जब बहस हुई तो ऐसा लग रहा था कि दोनों में किसी बात को लेकर रंजिश है. वहीं, फायरिंग में मारे गए युवक के परिवार के सदस्‍यों का कहना है कि आरोपित ने अपने 7-8 साथियों के साथ फायरिंग की. घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी वहां से फरार हो गया. फिलहाल पुलिस ने रणदीप, उसके भाई बलराम, सूरज, बाबू और 3 अज्ञात लोगों के खिलाफ धारा 302, 307, 34 और 148 IPC और धारा 25/27/54/59 के आर्म्स ऐक्ट के तहत मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है.
मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि रणदीप वाल्मीकि समुदाय से आता है और खुद को कांग्रेस नेता बताता है. हालांकि पार्टी की ओर से इस बात की पुष्टि नहीं की गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज