अपना शहर चुनें

States

स्‍वर्ण मंदिर में ऑपरेशन ब्‍लू स्‍टार की बरसी पर सिख श्रद्धालु भिड़े

ऑपरेशन ब्‍लू स्‍टार की बरसी पर खालिस्‍तान समर्थक और नॉन खालिस्‍तान समर्थक श्रद्धालु आपस में भिड़े.
ऑपरेशन ब्‍लू स्‍टार की बरसी पर खालिस्‍तान समर्थक और नॉन खालिस्‍तान समर्थक श्रद्धालु आपस में भिड़े.

अरदास कार्यक्रम के दौरान एक पक्ष के कुछ लोग जरनैल सिंह भिंडरावाले की तस्‍वीरें हाथ में लेकर खालिस्तान के समर्थन में नारेबाजी करने लगे. इस पर दूसरे पक्ष के लोगों ने ऐसा न करने की अपील की. हालांकि खालिस्‍तान समर्थक लगातार नारेबाजी करते हुए और हाथों में पोस्‍टर लेकर आगे बढ़ने लगे.

  • Share this:
अमृतसर के स्‍वर्ण मंदिर पर उस वक्‍त हंगामा हो गया जब खालिस्‍तान समर्थक और नॉन खालिस्‍तान समर्थक आपस में भिड़ गए. स्‍वर्ण मंदिर में ऑपरेशन ब्‍लू स्‍टार की बरसी के दिन मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि देने के लिए अरदास कार्यक्रम का आयोजन किया गया था. जिसमें अचानक से दो पक्षों में टकराव हो गया.

बता दें कि अरदास कार्यक्रम के दौरान एक पक्ष के कुछ लोग जरनैल सिंह भिंडरावाले की तस्‍वीरें हाथ में लेकर खालिस्तान के समर्थन में नारेबाजी करने लगे. इस पर दूसरे पक्ष के लोगों ने ऐसा न करने की अपील की. हालांकि खालिस्‍तान समर्थक लगातार नारेबाजी करते हुए और हाथों में पोस्‍टर लेकर आगे बढ़ने लगे. जिससे माहौल गरम हो गया और नॉन खालिस्‍तान समर्थक सिख श्रद्धालुओं से झड़प हो गई. इस दौरान स्वर्ण मंदिर में मौजूद एसजीपीसी की टास्क फोर्स ने दोनों पक्षों को किसी तरह शांत किया.

अकाल तख्‍त और शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने रखा था आयोजन
पंजाब के अमृतसर में ऑपरेशन ब्लू स्टार की बरसी के लिए अकाल तख्त और शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी की ओर से स्वर्ण मंदिर में अरदास कार्यक्रम का आयोजन किया गया था. हालांकि इस दौरान माहौल तनावपूर्ण हो गया रेडिकल ग्रुपों से जुड़े लोगों ने हाथों में तलवार भी लहराई. बता दे कि भारतीय सेना ने 3 से 6 जून तक स्‍वर्ण मंदिर में ऑपरेशन ब्‍लू स्‍टार चलाया गया था, जिसमें कई लोग मारे गए थे. ये अलगाववादी लोग थे जिन्‍हें पाकिस्‍तान से समर्थन मिल रहा था.
ये भी पढ़ें



खुलासा : ऑपरेशन ब्‍लू स्‍टार की बरसी पर पंजाब को दहलाने की साजिश, पाकिस्तान से भेजे गए थे हैंड ग्रेनेड

परेशन ब्लू स्टार की बरसी से पहले अमृतसर में मिले हैंड ग्रेनेड, पुलिस के हाथ पैर फूले
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज