Home /News /punjab /

punjab beats delhi in nationwide education survey opposition surrounded the government

राष्ट्रव्यापी शिक्षा सर्वे में पंजाब ने दिल्ली को पछाड़ा, विपक्ष ने सरकार को घेरा

 राष्ट्रीय उपलब्धि सर्वेक्षण-2021 की रिपोर्ट में पंजाब को दिल्ली से आगे रखा है. (फाइल फोटो)

राष्ट्रीय उपलब्धि सर्वेक्षण-2021 की रिपोर्ट में पंजाब को दिल्ली से आगे रखा है. (फाइल फोटो)

पंजाब ने कक्षा III, V, VIII और X के लिए राष्ट्रव्यापी शिक्षा सर्वेक्षण में दिल्ली को पीछे छोड़ दिया है. राष्ट्रीय उपलब्धि सर्वेक्षण-2021 की रिपोर्ट में पंजाब को दिल्ली से आगे रखा है

एस. सिंह

चंडीगढ़. पंजाब ने कक्षा III, V, VIII और X के लिए राष्ट्रव्यापी शिक्षा सर्वेक्षण में दिल्ली को पीछे छोड़ दिया है. राष्ट्रीय उपलब्धि सर्वेक्षण-2021 की रिपोर्ट में पंजाब को दिल्ली से आगे रखा है, हालांकि सीएम भगवंत मान अपने शिक्षा मंत्री और शिक्षकों को बेहतर शिक्षा और वातावरण प्रदान करने के लिए राजधानी दिल्ली ले गए थे. राष्ट्रीय सर्वेक्षण सामने आने के बाद विपक्ष ने सरकार को घेरना शुरू कर दिया है. शिरोमणि अकाली दल के नेता व पूर्व शिक्षा मंत्री ने सर्वेक्षण के लिए जहां छात्रों को बधाई दी है वहीं सीएम भगवंत मान से माफी मांगने की अपील की है.

पंजाब के छात्र दिल्ली से बेहतर
पिछले नवंबर में किए गए सर्वेक्षण में विभिन्न विषयों में छात्रों का परीक्षण किया गया है. निजी और सरकारी स्कूलों को कवर करते हुए विशेष रूप से महामारी के दौरान उनके सीखने और प्रदर्शन का आकलन किया गया है. 15 में से 10 कैटेगरी में पंजाब टॉप पर है. इसने भाषा (पंजाबी) में 355, गणित में 339 और ईवीएस में 334 अंक हासिल किए है. जो तीसरी कक्षा के लिए क्रमशः 323, 306 और 307 के राष्ट्रीय औसत से अधिक है. कक्षा 10 में पंजाब ने गणित (273) में सर्वोच्च स्कोर किया और अंग्रेजी में तीसरे स्थान पर रहा है.

दिल्ली मॉडल पूरी तरह से विफल
चीमा ने कहा कि अब यह स्पष्ट है कि शिक्षा का बहुप्रचारित दिल्ली मॉडल जिसे आम आदमी पार्टी द्वारा चुनाव प्रचार उपकरण के रूप में इस्तेमाल किया गया था, पूरी तरह से विफल है. सीएम मान को इस तथ्य को स्वीकार करना चाहिए और इसे पंजाब पर थोपने की कोशिश नहीं करनी चाहिए. उन्होंने कहा कि सरकार को मौजूदा पंजाब मॉडल को मजबूत करने के लिए काम करना चाहिए. चीमा ने कहा कि तीसरी से दसवीं कक्षा तक पंजाब के स्कूली बच्चों ने दिल्ली के अपने समकक्षों की तुलना में बेहतर प्रदर्शन किया है. उन्होंने कहा कि जहां तक गणित का सवाल है, पंजाब के छात्र पहले, सामाजिक विज्ञान के मामले में दूसरे और अंग्रेजी के मामले में तीसरे स्थान पर हैं.

कैप्टन ने कांग्रेस पर भी उठाए सवाल
इस बीच पूर्व मुख्यमंत्री और पंजाब लोक कांग्रेस के अध्यक्ष कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पंजाब में शिक्षा के दिल्ली मॉडल को पेश करने के आप सरकार को आड़े हाथों लिया है. पूर्व सीएम ने कांग्रेस पर भी कटाक्ष किया जिसने 2017 और सितंबर 2021 के बीच उनकी उपलब्धियों का श्रेय लेने से इनकार दिया था और  AAP के लिए पंजाब में चुनाव जीतने का मार्ग प्रशस्त किया. सर्वेक्षण का हवाला देते हुए कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि पंजाब न केवल दिल्ली से बहुत आगे है, बल्कि सभी संकेतकों पर राष्ट्रीय औसत से काफी बेहतर है.

Tags: Delhi, Education news, Punjab

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर