लव मैरिज से गुस्साए ससुरालियों ने दो माह के पोते को बेड पर पटककर मार डाला

बेटे की मौत के बाद बिलख बिलखकर रोती महिला.

बेटे की मौत के बाद बिलख बिलखकर रोती महिला.

पुलिस ने पीड़िता संजना के बयानों के आधार पर पति मनप्रीत सिंह, सास सुखचैन कौर व ससुर नरिंद्र सिंह के खिलाफ 304, 506 व 34 आईपीसी के तहत मामला दर्ज किया है. पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है.

  • Share this:
चंडीगढ़. पंजाब के फिरोजपुर (Ferozepur Punjab) में परिवार को बेटे का इंटरकास्ट लव मैरिज (Intercast love marriage) करना रास नहीं आया. ससुरालियों ने अपना गुस्‍सा निकालने के लिए न केवल बहू के साथ मारपीट की बल्कि दरिंदगी की हदें तब पार हो गईं जब उन्‍होंने दो माह के बच्चे को बेड पर पटक पटकर मार डाला. पुलिस ने पीड़िता संजना के बयानों के आधार पर पति मनप्रीत सिंह, सास सुखचैन कौर व ससुर नरिंद्र सिंह के खिलाफ 304, 506 व 34 आईपीसी के तहत मामला दर्ज किया है.

पुलिस से प्राप्त जानकारी के मुताबिक 20 वर्षीय संजना ने बताया कि उसकी बीते साल 10 मई को गांव जपरावां के मनप्रीत सिंह के साथ लव मैरिज हुई थी. वह अनुसूचित जाति (Scheduled Caste) से संबंध रखती है. शादी के बाद उसके ससुराल वाले उसे घर ले आए थे. शिकायत में कहा गया है कि कुछ दिन तो परिवार में सब ठीक चल रहा था, लेकिन बाद में आए दिन ससुराल वाले उससे झगड़ा करने लगे और उसे जातिसूचक गालियां देन लगे. जिसके चलते उसके मायके वाले उसे अपने साथ फिरोजपुर के जनता प्रीत नगर साथ ले गए थे.



इसे भी पढ़ें :- कैप्टन ने सिद्धू ने लिए बंद किए सभी दरवाजे, तो पूर्व क्रिकेटर ने याद दिलाए पुराने वादे
बीते साल ही नंवबर में पति के कहने पर दोनों शहर के आजाद नगर में एक किराए के मकान में रहने लगे थे. उसके पति पर सास ससुर ने दबाव बनाया और वह उसे छोड़ कर अपने माता-पिता के साथ चला गया. वह दोबारा अपने मायके में रहने लगी थी. इस साल 3 मार्च को उसने एक बेटे को जन्म दिया था. बेटे का जन्म होने के बाद ससुराल वाले फिर उसे अपने साथ ले गए. संजना ने आरोप लगाया कि कुछ ही दिन बीतने के बाद फिर मारपीट और गालियां देने का सिलसिला शुरू हो गया.

इसे भी पढ़ें :- प्रशांत किशोर के सन्यास लेने से पंजाब में गर्माया सियासी माहौल, कैप्टन के लिए हो सकता है घातक

ऐसे हुई मासूम की मौत



शिकायत में कहा गया है कि 29 अप्रैल को पीड़िता के साथ फिर मारपीट की गई. उसके सास-ससुर और पति ने उससे मारपीट की और बच्चे को छीन लिया. उसे घसीट कर घर से बाहर निकाल दिया और बच्चे को कमरे में ले जाकर बेड पर पटक दिया. बच्चे के रोने पर वह उसे उठाने गई तो उसके ससुराल वालों ने उसे दोबारा पीटा. वह अपने बच्चे को मायके में ले आई और परिवार के साथ उसे दिखाने के लिए डॉक्टर के पास ले गई. डॉक्टर ने बच्चे को अगले दिन अस्पताल लाने के लिए कहा था, लेकिन जब वह बच्चे को गंभीर अवस्था में बच्चे को दोबारा डॉक्टर के पास ले गई तो उसे वहां मृत घोषित कर दिया गया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज