पंजाब: पीएम मोदी ने कहा- पित्रोदा को नहीं राहुल गांधी को आनी चाहिए शर्म

News18Hindi
Updated: May 13, 2019, 9:51 PM IST
पंजाब: पीएम मोदी ने कहा- पित्रोदा को नहीं राहुल गांधी को आनी चाहिए शर्म
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बठिंडा में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी पर हमला बोला.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बठिंडा में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी पर हमला बोला.

  • Share this:
पंजाब के बठिंडा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 1984 के सिख दंगों पर सैम पित्रोदा और राहुल गांधी की टिप्पणी पर अपनी तीखी प्रतिक्रिया दी है. पीएम ने कहा कि शर्म सैम पित्रोदा को नहीं राहुल गांधी को आनी चाहिए. पीएम मोदी ने कहा, 'नामदार आपने अपने गुरु को डांटने का नाटक किस लिए किया था? क्योंकि उन्होंने सार्वजनिक तौर पर वह बात कही दी जो हमेशा से कांग्रेस के दिल में रही है? आप (राहुल गांधी) हैं, जिन्‍हें शर्म आनी चाहिए.'

पीएम मोदी ने आगे कहा
1984 के सिख दंगों को आज 35 साल हो गए हैं. कांग्रेस की करतूतों की वजह से आज तक इन दंगा पीड़ितों को जो न्याय मिलना चाहिए था, वह नहीं मिल सका. कांग्रेस वाले कमेटी और कमीशन बनाते रह गए और इतने गंभीर मामले को रफा-दफा करते रहे. कांग्रेस के दिल में जो हमेशा था, वह नामदार के गुरु ने सार्वजनिक रूप से वह राज खोल दिया, क्या इसके लिए नामदार उन्हें डांट रहे हैं? क्या नामदार के गुरु को घर की बात बाहर बताने के लिए डांटा जाना चाहिए?


'सिख दंगों के दोषियों को जल्‍द सजा मिलेगी'
पीएम मोदी ने कहा, 'कांग्रेस की नीतियां बनाने वाले राजीव गांधी जी के खास सलाहकार और नामदार के गुरु ने 84 के दंगों को लेकर जो कहा, उस पर देश में क्या प्रतिक्रिया हुई है. यह आप भी देख रहे हैं. कांग्रेस के हमेशा जो दिल में था वह राज बाहर आने से कांग्रेस में हड़कंप मचा हुआ है. आपके चौकीदार ने आपसे न्याय का वादा किया था. बादल (प्रकाश सिंह बादल) साहब के आशीर्वाद से मैं आज संतोष से कह सकता हूं कि 1984 के सिख दंगों के एक दोषी को फांसी के फंदे तक पहुंचाया है, कुछ को उम्रकैद हुई है, जो बाकी बचे उन्हें भी जल्द सजा मिलेगी.'

पूरी रैली नें कांग्रेस पर हमलावर रहे पीएम मोदी ने कहा
इन लोगों कि एक और ऐतिहासिक गलती है, जिसको सुधारने का काम अब हो रहा है. वर्ष 1947 में कांग्रेस ने बंटवारा तो करा दिया, लेकिन हमारी आस्था का केंद्र करतारपुर साहिब को कुछ ही किमी के फासले में पाकिस्तान में जाने दिया. भारत को 21वीं सदी की महान ताकत बनाने के लिए फिर एक बार मजबूत सरकार की जरूरत है. यही कारण है कि 6 चरणों में देश ने एनडीए के पक्ष में मत दिया है.


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कांग्रेस के ढकोसला पत्र में कहा गया है कि वो जान हथेली में रखने वाले जवानों को जो विशेषाधिकार मिलता है उसे हटा देंगे, ताकि आतंक के पैरोकारों और पत्थरबाजों को जवानों को लहुलुहान करने का लाइसेंस मिल जाए.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 13, 2019, 6:58 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...