Home /News /punjab /

भगवंत मान: जिनका विधानसभा में हार के साथ हुआ था डेब्यू, अब बने AAP के CM उम्मीदवार; 5 खास बातें

भगवंत मान: जिनका विधानसभा में हार के साथ हुआ था डेब्यू, अब बने AAP के CM उम्मीदवार; 5 खास बातें

भगवंत मान के नाम का ऐलान हो गया है .File pic)

भगवंत मान के नाम का ऐलान हो गया है .File pic)

Who is Bhagwant Mann: भगवंत मान ने साल 2012 में मनप्रीत बादल की पीपुल्स पार्टी ऑफ पंजाब से सियासी करियर की शुरुआत की थी, लेकिन लेहरा से पहला विधानसभा चुनाव हार गए थे. साल 2014 में उन्होंने आप का दामन थामा और दो लाख से ज्यादा वोटों से संगरूर सीट जीती. 2017 विधानसभा चुनाव में आप ने उन्हें शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर बादल के सामने खड़ा किया, लेकिन वे 18 हजार 500 मतों से हार गए. उन्होंने 2019 में दोबारा 1 लाख से ज्यादा मतों से संगरूर सीट पर जीत दर्ज की.

अधिक पढ़ें ...

चंडीगढ़. पंजाब विधानसभा चुनाव (Punjab Assembly Election) के लिए आम आदमी पार्टी (AAP) ने मुख्यमंत्री चेहरे का ऐलान कर दिया है. पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने भगवंत मान को पार्टी का सीएम चेहरा बनाया है. केजरीवाल का कहना है कि आप को इस संबंध में 21 लाख से ज्यादा लोगों की प्रतिक्रियाएं मिली थीं. उन्होंने बताया कि इस पर जवाब देने वाले 93 फीसदी से ज्यादा लोगों ने मान का चुनाव किया था.

मान का कहना है कि अब उनके कंधों पर दोहरी जिम्मेदारी आ गई है. उन्हें केवल पार्टी ने ही नहीं, बल्की राज्य के लोगों ने भी चुना है. खास बात है कि एक कॉमेडियन के तौर पर अपने करियर की शुरुआत करने वाले मान आज पंजाब की कमान संभालने के लिए काम कर रहे हैं. हालांकि, इसके लिए आप को फरवरी में होने वाले मतदान में जीत हासिल करनी होगी. जानते हैं मान के बारे में कुछ खास बातें.

48 साल के मान का जन्म सतौज के संगरूर में एक किसान परिवार में हुआ था. उन्होंने सुनाम स्थित ऊधम सिंह शासकीय कॉलेज से ग्रेजुएशन पूरी की. मान के कॉमेडी सफर की शुरुआत कॉलेज के दिनों से ही हो गई थी. उन्होंने पटियाला के पंजाबी यूनिवर्सिटी में आयोजित कार्यक्रम में अपने कॉलेज के लिए दो गोल्ड मेडल जीते थे.
अपने पहले कॉमेडी एलबम के लिए मान, जगतार जग्गा के साथ आए और दोनों ने 'जुगनू केहंदा है' नाम के टीवी कार्यक्रम की शुरुआत की . यहां वे राजनीतिक से सार्वजनिक मुद्दों पर व्यंग किया. साल 2008 में 'ग्रेट इंडियन लाफ्टर चैलेंज' में एंट्री के बाद उन्हें राष्ट्रीय स्तर पर पहचान मिली और उन्होंने राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता फिल्म 'मैं मां पंजाब दी' में काम किया था.
उन्होंने साल 2012 में मनप्रीत बादल की पीपुल्स पार्टी ऑफ पंजाब से सियासी करियर की शुरुआत की थी, लेकिन लेहरा से पहला विधानसभा चुनाव हार गए थे. साल 2014 में उन्होंने आप का दामन थामा और दो लाख से ज्यादा वोटों से संगरूर सीट जीती. 2017 विधानसभा चुनाव में आप ने उन्हें शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर बादल के सामने खड़ा किया, लेकिन वे 18 हजार 500 मतों से हार गए. उन्होंने 2019 में दोबारा 1 लाख से ज्यादा मतों से संगरूर सीट पर जीत दर्ज की.
मान ने साल 2018 में पंजाब आप के संयोजक पद से इस्तीफा दे दिया था. हालांकि, उन्होंने 2019 में प्रदेश अध्यक्ष के रूप में पार्टी में वापसी की. मान को उनकी 'बसंती' पगड़ी के कारण भी जाना जाता है. यह रंग शहीद भगत सिंह से भी जुड़ा हुआ है.
मान पर शराबी होने को लेकर सवाल उठते रहे हैं. साल 2019 में बरनाला में आयोजित एक रैली में उन्होंने शराब नहीं पीने की कसम खा ली थी. मान अमेरिका में रहने वाली अपनी पत्नी से अलग हो चुके हैं. उनकी दो बच्चे (एक बेटा और एक बेटी) पत्नी के साथ रहते हैं.

Tags: Assembly elections, Bhagwant Mann, Punjab Assembly Election 2022

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर