• Home
  • »
  • News
  • »
  • punjab
  • »
  • पंजाब में बसों का चक्काजाम, हड़ताली कर्मचारी कल करेंगे CM आवास का घेराव

पंजाब में बसों का चक्काजाम, हड़ताली कर्मचारी कल करेंगे CM आवास का घेराव

पंजाब में बसों का चक्‍काजाम किया गया है. (Pic- News18)

पंजाब में बसों का चक्‍काजाम किया गया है. (Pic- News18)

Punjab: कर्मचारियों ने कल 10 सितंबर को मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Amarinder Singh) के सिस्वां स्थित फार्म हाउस का घेराव करने की चेतावनी दी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    चंडीगढ़. पंजाब रोडवेज (Punjab Roadways), पनबस और पीआरटीसी के अस्थायी कर्मचारियों की विभिन्‍न मांगों को लेकर सरकार के साथ वार्ता विफल होने के बाद गुरुवार को पंजाब (Punjab Bus Stands) के बस अड्डे सुबह 2 घंटे के लिए बंद कर दिए गए. इससे लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा. कुछ जगहों पर निजी बस ऑपरेटर्स के साथ प्रदर्शनकारियों की नोकझोंक भी हुई है. उधर वार्ता विफल होने के बाद जहां सरकार ने इन कर्मचारियों को काम पर लौटने का नोटिस जारी किया है, वहीं कर्मचारियों ने कल 10 सितंबर को मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Amarinder Singh) के सिस्वां स्थित फार्म हाउस का घेराव करने की चेतावनी दी है.

    सरकार ने इन कर्मचारियों को काम पर न लौटने पर कार्रवाई करने की चेतावनी दी है. पेप्सू रोड ट्रांसपोर्ट कारपोरेशन (पीआरटीसी) के प्रदेश भर में 2000 के करीब कर्मचारी बीते सोमवार से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर हैं. उनकी इस हड़ताल से जहां आम जनता को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. वहीं सरकार को रोजाना करोड़ों का नुकसान उठाना पड़ रहा है. चूंकि पीआरटीसी की 1100 बसों में से केवल 300 बसें ही अपने रूट पर चल रही हैं. हड़ताली कर्मचारियों में वर्कशॉप स्टाफ, एडवांस टिकट बुकर के अलावा ज्यादा गिनती में ड्राइवर व कंडक्टर शामिल हैं.

    यूनियन के प्रधान रेशम सिंह गिल ने बताया कि बैठक में कर्मियों को आश्वासन दिया जा रहा था कि सरकार कर्मियों को नियमित करने के लिए योजना तैयार कर रही है और इसके संबंध में एक एक्ट भी लाया जा रहा है. हालांकि जब कर्मचारियों ने अपनी बात रखने की कोशिश की तो उनकी बात नहीं सुनी गई.

    उन्होंने बताया कि कर्मचारियों ने जब कैप्टन अमरिंदर से बात करने की मांग की तो उसे टाल दिया गया. कर्मियों से कहा गया कि यदि वह हड़ताल को समाप्त कर देते हैं तो उसके बाद उनकी मुलाकात मुख्यमंत्री से करा दी जाएगी. जिसके बाद यूनियन ने कल 10 सितंबर को उनके आवास को घेरने का फैसला लिया है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज