अपना शहर चुनें

States

पंजाब में निगम और परिषद चुनावों से पहले घरों के बाहर लगे बायकॉट के पोस्टर

पंजाब में निगम और परिषद के चुनावों से पहले घरों के बाहर लगे पोस्टर
पंजाब में निगम और परिषद के चुनावों से पहले घरों के बाहर लगे पोस्टर

बरनाला के कस्बा धनौला के वार्डों में लोगों ने किसान आंदोलन के समर्थन में अपने घरों के आगे नगर परिषद चुनाव को लेकर पोस्टर लगाए हैं. जिनमें किसी भी पार्टी के व्यक्ति को वोट न मांगने के लिए कहा गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 25, 2021, 6:48 PM IST
  • Share this:
(सूरज सिंह)

चंडीगढ़. पंजाब सरकार की तरफ से नगर परिषद और नगर निगम चुनाव का ऐलान कर दिया गया है. राज्य के कई ग्रामीण क्षेत्रों में इन चुनावों को बायकॉट करने की मुहिम शुरू हो चुकी है. बरनाला के कस्बा धनौला में किसान आंदोलन (Kisan Andolan) के कारण चुनाव बायकॉट (Elections Boycott) करने की आवाज उठने लगी है. उधर कृषि कानूनों के विरोध में किसानों का संघर्ष जारी है. जिसके चलते पंजाब के किसान लगातार दिल्ली मोर्चो में शामिल हो रहे हैं.

बरनाला के कस्बा धनौला के वार्डों में लोगों ने किसान आंदोलन के समर्थन में अपने घरों के आगे नगर परिषद चुनाव को लेकर पोस्टर लगाए हैं. जिनमें किसी भी पार्टी के व्यक्ति को वोट न मांगने के लिए कहा गया है. इस संबंध में बातचीत करते हुए धनौला निवासियों ने कहा है कि कृषि कानूनों के विरुद्ध पंजाब के किसान ज़िंदगी मौत की लड़ाई लड़ रहे हैं. पंजाब सरकार एक तरफ किसान आंदोलन का साथ देने की बात कह रही है जबकि दूसरी ओर आंदोलन के बावजूद नगर परिषद चुनाव करवाने जा रही है.

स्थानीय लोगों का कहना है कि हमारे माता-पिता कृषि कानून रद्द करवाने के लिए दिल्ली मोर्चो में संघर्ष कर रहे हैं. इस कारण वे इस चुनाव में हिस्सा नहीं लेंगे. सरकार को किसानों की भावनाओं को देखते हुए नगर परिषद के चुनाव रद्द करने चाहिए. यदि सरकार चुनाव रद्द नहीं करती तो वे चुनाव का बायकॉट करेंगे. यही वजह है कि उन्होंने अपने घरों आगे पोस्टर लगाए हैं कि किसी भी पार्टी का उम्मीदवार उनके घरों में वोट मांगने न आएं.





इसे भी पढ़ें :- किसान आंदोलन को लेकर पंजाब BJP में असंतोष! पूर्व उपाध्यक्ष बोलीं- सरकार चाहती तो एक दिन में सुलझ जाता मुद्दा

पंजाब के 8 नगर निगमों और 109 नगर परिषदों व नगर पंचायतों में आम चुनाव का ऐलान कर दिया गया है. इसके तहत 14 फरवरी को मतदान होगा और वोटों की गिनती का काम 17 फरवरी को होगा. चुनाव कार्यक्रम की घोषणा के साथ ही राज्य के सभी चुनावी हलकों में आदर्श चुनाव आचार संहिता तुरंत प्रभाव से लागू हो चुकी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज