होम /न्यूज /पंजाब /कैप्टन सरकार का महिलाओं को एक और तोहफा, हाई स्कूल-कॉलेज छात्राओं को मिलेंगे मुफ्त सैनिटरी पैड

कैप्टन सरकार का महिलाओं को एक और तोहफा, हाई स्कूल-कॉलेज छात्राओं को मिलेंगे मुफ्त सैनिटरी पैड

पंजाब सरकार छात्राओं को मुफ्त सैनिटरी पैड देगी. (फाइल फोटो)

पंजाब सरकार छात्राओं को मुफ्त सैनिटरी पैड देगी. (फाइल फोटो)

Punjab Updates: इसके अलावा भी पंजाब सरकार (Punjab Government) ने राज्य में कई कल्याणकारी योजनाओं की घोषणा की है. इनमें ...अधिक पढ़ें

    चंडीगढ़. पंजाब में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (CM Amarinder Singh) की सरकार लगातार महिलाओं की स्थिति को बेहतर करने के लिए काम कर रही है. शुक्रवार को राज्य में सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने हाईस्कूल और कॉलेज छात्राओं के लिए मुफ्त सैनिटरी पैड (Free Sanitary Pads) देने की घोषणा की है. इससे पहले सरकार ने महिलाओं को सरकारी विभागों में नौकरी के लिए 33 प्रतिशत आरक्षण को मंजूरी दे दी है.

    गुरुवार को पंजाब में सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कॉलेज और हाईस्कूल छात्राओं को मुफ्त सैनिटरी पैड दिए जाने का ऐलान किया है. इस बात की जानकारी सीएम के मीडिया सलाहकार रवीन ठुकराल ने दी है. उन्होंने ट्वीट किया, 'कल्याणकारी योजनाओं के लॉन्चिंग के दौरान पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने हाई स्कूल  और कॉलेज छात्राओं को मुफ्त सैनिटरी पैड देने का ऐलान किया.' इसके साथ ही राज्य में जनवरी महीने को धियां दी लोहड़ी कार्यक्रम के जरिए बालिकाओं को समर्पित किया गया है.

    इसके अलावा भी पंजाब सरकार ने राज्य में कई कल्याणकारी योजनाओं की घोषणा की है. इनमें विद्युत उपभोक्ताओं के लिए मीटरिंग सुविधा और कानूनी मामलों के लिए रजिस्ट्रेशन पोर्टल शामिल है. सरकार ने यह कदम उपभोक्ताओं की सुविधा को ध्यान में रखते हुए उठाए हैं. ठुकराल ने एक अन्य ट्वीट में इस बात की जानकारी दी है.

    पंजाब सरकार के पंजाब सिविल सेवाएं (पदों में महिलाओं के लिए आरक्षण) (प्रथम संशोधन) नियम 2020 के तहत सभी सरकारी विभागों में जनरल, अनुसूचित जाति, बीसी, पूर्व सैनिक, खेल कोटे और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग की महिला कैंडिडेट्स को 33 फीसदी रिजर्वेशन दिया जाएगा. हालांकि, इस आरक्षण को लेकर सरकार ने फैसला एक साल पहले ही कर लिया था. सरकार ने इस मामले में अधिसूचना जारी कर दी है.

    Tags: Captain Amarinder Singh, Punjab

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें