पंजाब में हलचल पर कांग्रेस का मंथन, अमरिंदर को खास निर्देश, सिद्धू के इंटरव्यू से पार्टी नाराज

पंजाब में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और नवजोत सिंह सिद्धू के बीच तनाव चल रहा है.

Punjab Congress Crisis: पंजाब के पूर्व मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू एक बार फिर मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के खिलाफ मुखर हो गए हैं, जिसकी वजह से प्रदेश में कांग्रेस को काफी संकटों का सामना करना पड़ रहा है.

  • Share this:

नई दिल्ली. दिल्ली में एआईसीसी की तीन सदस्यीय समिति ने मंगलवार को पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह से अपनी नाराजगी जाहिर की और उन्हें पार्टी के नाराज विधायकों के साथ तेजी से काम करने के लिए कहा. सूत्रों की मानें, तो समिति ने कहा कि अगले साल पंजाब में होने वाले विधानसभा चुनाव सभा से पहले नाराज विधायकों को मनाना जरूरी है और इसकी पूरी कोशिश की जाएगी.


समिति ने पंजाब में गुरुग्रंथ साहिब की बेअदबी और ड्रग्स मामले में कार्रवाई को लेकर तेज़ी लाने पर जोर दिया, जिस पर कैप्टन ने भी अपनी सहमति जताई. वहीं, एक दिन पहले नवजोत सिंह सिद्धू द्वारा News18 को दिए इंटरव्यू से समिति और राहुल गांधी दोनों ही नाराज दिखे. इस बार में कमेटी का यह साफ मत मानना था कि उनको सार्वजनिक बयान नहीं देना चाहिए था.


सूत्रों ने बताया कि अमरिंदर सिंह ने पंजाब कांग्रेस के पुनर्गठन सहित प्रदेश कांग्रेस में लंबित मुद्दों को हल करने के लिए मल्लिकार्जुन खड़गे की अध्यक्षता में गठित एआईसीसी की समिति के साथ सुबह 11 बजे बैठक की. लंबित मुद्दों में पंजाब के पूर्व मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू का मुद्दा भी शामिल है, जो एक बार फिर मुख्यमंत्री के खिलाफ मुखर हो गए हैं.




गौरतलब है कि एआईसीसी की तीन सदस्यीय समिति का गठन राज्य इकाई में चल रही गुटबाजी को खत्म करने और अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी को मजबूत करने के लिए किया गया है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.