कैप्टन अमरिंदर सिंह के सलाहकार ने अपने ही कांग्रेस MLA को धमकाया, पंजाब में फिर मचा सियासी घमासान

कैप्टन अमरिंदर सिंह और परगट सिंह.

कैप्टन अमरिंदर सिंह और परगट सिंह.

Punjab Congress Crisis: कांग्रेस विधायक परगट सिंह ने कहा है कि जिस तरह से धमकियां दी जा रही हैं यह पंजाब के लिए अच्छा नहीं है.

  • Share this:

चंडीगढ़. बहबल कलां गोलीकांड (Bahbalakalam firing case) मामले में अपनी ही सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलने वाले कांग्रेस विधायक परगट सिंह (Congress MLA Pargat Singh) ने अब मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Captain Amarinder Singh) के राजनीतिक सलाहकार संदीप संधू  (Political advisor Sandeep Sandhu) पर धमकाने का आरोप लगाया है. उन्होंने कहा है कि उन्हें संधू ने फोन कर कहा कि कैप्टन ने कहा है कि 'आपकी प्रॉपर्टी को लेकर विजिलेंस ने कागज-पत्र तैयार कर लिए हैं क्योंकि आपने पंजाब सरकार (Punjab government) को लेकर सार्वजनिक रूप से कई गलत बातें कही हैं. अब आगे से आप ऐसा न करें, यह आपके लिए उचित होगा.'

परगट सिंह का कहना है कि उन्होंने संधू से जानने की कोशिश कि कि आखिर उन्होंने क्या किया है. इसपर संधू ने जवाब दिया कि मुझे आपको सीएम का मैसेज देना था, सो दे दिया. कांग्रेस विधायक ने कहा है कि मैं मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह से कहता हूं कि वे विजिलेंस के साथ-साथ चाहे तो ईडी से भी मेरी संपत्ति की जांच करवा लें. कांग्रेस विधायक परगट सिंह ने कहा है कि जिस तरह से धमकियां दी जा रही हैं यह पंजाब के लिए अच्छा नहीं है.

Youtube Video

उधर सीएम के राजनीतिक सलाहकार संदीप संधू ने धमकी देने की बात से इनकार कर दिया है. उन्होंने कहा कि मैंने सिर्फ परगट सिंह से बात की थी. मामले को भड़कता देख इस बीच पंजाब कांग्रेस के प्रधान सुनील जाखड़ (Punjab Congress President Sunil Jakhar) का बयान भी सामने आया है जिसमें कहा गया है कि विधायकों के खिलाफ विजिलेंस की जांच मात्र अफवाहे है.


उधर इस प्रकरण के बाद विधायक परगट सिंह एक बार फिर से आक्रामक हो उठे हैं. उन्होंने कहा है कि कैप्टन सरकार मुझ पर पूर्व मंत्री की तर्ज पर दबाव बनाने की कोशिश कर रही है. विधायक ने कहा कि न तो मैं सरकार में मंत्री रहा हूं और न ही मेरा किसी गुट से संबंध है. उन्होंने कहा कि मैं जनता की सेवा कर रहा हूं और करता रहूंगा. परगट सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह चाहें तो विजिलेंस, ईडी और सीबीआई की भी जांच करवा सकते हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज