ट्विटर पर भिड़े पंजाब के CM और हरसिमरत कौर, कैप्टन बोले- गलत जानकारी देकर गुमराह न करें

हरसिमरत कौर बादल ने दावा किया कि केंद्र सरकार ने कोविड-19 का मुकाबला करने के लिए पंजाब को धनराशि और खाद्यान्न देकर मदद की है

हरसिमरत कौर बादल ने अलग-अलग ट्वीट कर केंद्र सरकार द्वारा पंजाब सरकार को भेजे गए पैसे का ब्यौरा साझा करते हुए कैप्टन अमरिंदर सिंह से पूछा कि राज्य में जरूरतमंदों को कोई राहत क्यों नहीं मिल पा रही है.

  • Share this:
चडीगढ़. केंद्र सरकार से कोरोना लॉकडाउन को लेकर आर्थिक पैकेज की मांग को लेकर पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Captain Amrinder Singh) और केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल के बीच ठन गई है. इस बीच भगवंत मान ने दोनों नेताओं को जनता को बेवकूफ बनाने की बजाय तथ्य पेश करने की दी नसीहत.

हरसिमरत कौर बादल ने दावा किया कि केंद्र सरकार ने कोविड-19 का मुकाबला करने के लिए पंजाब को धनराशि और खाद्यान्न देकर मदद की है. हरसिमरत कौर बादल ने पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के द्वारा केंद्र से विशेष पैकेज और राज्य के जीएसटी रिफंड की बकाया राशि जारी करने की मांग करने के कुछ दिनों बाद केंद्रीय मंत्री के नाते कैप्टन को जवाब दिया.



हरसिमरत कौर बादल ने अलग-अलग ट्वीट कर केंद्र सरकार द्वारा पंजाब सरकार को भेजे गए पैसे का ब्यौरा साझा करते हुए कैप्टन अमरिंदर सिंह से पूछा कि राज्य में जरूरतमंदों को कोई राहत क्यों नहीं मिल पा रही है. हरसिमरत कौर बादल ने कहा कि 'केंद्र सरकार ने कोविड-19 का मुकाबला करने के लिए पंजाब को राशि और खाद्यान्न देकर मदद की. मैं कैप्टन अमरिंदर सिंह को पूरा विवरण भेज रही हूं. लोग जानना चाहते हैं कि केंद्र से मिली वस्तुएं कहां गईं. उन्हें कोई राहत क्यों नहीं दी जा रही. बेहतर होगा कि इसका मुद्दा बनाने से पहले आप पहले लोगों में राहत सामग्री बांट दें.'

हरसिमरत कौर बादल ने लिखा कि कोविड-19 के फैलने यानि 20 मार्च के बाद जीएसटी क्षतिपूर्ति और बकाया के आधार पर 2,366 करोड़ रुपये सहित पंजाब को 3,445 करोड़ रुपये का पैकेज, आरडीजी के रूप में 638 करोड़ रुपये, आपदा प्रबंधन के लिए 247 करोड़ रुपये, मनरेगा के लिए 72 करोड़ रुपये और एनएचएम के तहत 72 करोड़ रुपये दिए गए.

इसके बाद हरसिमरत कौर बादल पर जवाबी हमला करते हुए कैप्टन अमरिंदर सिंह ने उन पर लोगों को गलत जानकारी देकर गुमराह करने का आरोप लगाया. कैप्टन ने हरिसमरत कौर बादल के ट्वीट के जवाब में कहा, आपकी जानकारी पूरी तरह से गलत और तथ्यहीन है और वो पंजाब के लोगों को गुमराह कर रही है.'

इस पूरी लड़ाई में पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के मीडिया एडवाइजर रवीन ठुकराल और शिरोमणि अकाली दल पार्टी के ऑफिशियल हैंडल की तरफ से भी ट्वीट करके एक दूसरे की पार्टियों के नेता पर आरोप लगाये गये.

वहीं इस पूरे मामले पर पंजाब में आम आदमी पार्टी के अध्यक्ष और संगरूर से सांसद भगवंत मान ने दोनों ही नेताओं पर आरोप लगाया कि जब ये दोनों पार्टी के नेता सत्ता में आते हैं तो अपने चहेतों को ही इस तरह के मुश्किल हालात में मदद पहुंचाने की कोशिश करते हैं और ये दोनों ही नेता पंजाब की जनता को बेवकूफ न बनाएं और जो दावा दोनों नेता कर रहे हैं उसको लेकर डॉक्युमेंट्री एविडेंस जनता के सामने पेश करें.

ये भी पढ़ें:

सब्जी बेचने वाला निकला COVID-19 पॉजिटिव, 2000 लोग होम क्वारंटाइन

पाक से आए हिंदू डॉक्टरों की अपील- हमें भी कोरोना के मरीजों के इलाज का मौका दें

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.