होम /न्यूज /पंजाब /पुलिस पर नवजोत सिद्धू ने की 'गलत बयानी' तो DSP ने घेरा, कहा- हम ना हों तो रिक्शे वाला ना माने नेताओं के निर्देश

पुलिस पर नवजोत सिद्धू ने की 'गलत बयानी' तो DSP ने घेरा, कहा- हम ना हों तो रिक्शे वाला ना माने नेताओं के निर्देश

सिद्धू के कथित बयान पर पुलिसकर्मी ने घेरा. (File pic)

सिद्धू के कथित बयान पर पुलिसकर्मी ने घेरा. (File pic)

समाचार एजेंसी ANI के अनुसार चंडीगढ़ के पुलिस अधीक्षक (DSP) चंडीगढ़ दिलशेर चंदेल (Chandigarh DSP Dilsher S Chandel) ने ...अधिक पढ़ें

    चंडीगढ़. चंडीगढ़ के पुलिस अधीक्षक (डीएसपी) चंडीगढ़ दिलशेर चंदेल(Chandigarh DSP Dilsher S Chandel) ने शनिवार को पंजाब कांग्रेस प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू (Punjab Congress chief Navjot Singh Sidhu) को एक राजनीतिक रैली में अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं को ‘पुलिस की पैंट गीला करने’ के लिए कहने पर कड़ी फटकार लगाई. चंदेल ने कहा कि एक वीडियो वायरल हो गया है, जिसमें सिद्धू ने चंडीगढ़ में एक जनसभा को संबोधित करते हुए पुलिस का मजाक उड़ाया और अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं से कथित तौर पर कहा कि वे ‘पुलिसकर्मियों की पैंट गीली करें.’ डीएसपी ने कांग्रेस नेता की ‘अपमानजनक टिप्पणी’ की निंदा करते हुए कहा कि राजनेताओं को सुरक्षा बलों द्वारा किए गए बलिदान को नहीं भूलना चाहिए.

    समाचार एजेंसी ANI के अनुसार चंदेल ने सिद्धू को फटकार लगाते हुए कहा- ‘पुलिस सुरक्षा के बिना, एक रिक्शा चालक भी उसका भाषण नहीं सुनेगा.’ उन्होंने कहा, “राजनेताओं को ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मियों का इस तरह मजाक नहीं बनाना चाहिए. वे सिर्फ अपना कर्तव्य निभा रहे हैं और राजनेताओं को इस तरह के बयान देकर उनका मनोबल नहीं गिराना चाहिए.’ उन्होंने कहा, ‘सुरक्षा बलों की अपनी गरिमा है. सिद्धू ने इस तरह के शर्मनाक बयान देकर पूरी पंजाब पुलिस को बदनाम किया है.’

    सिद्धू के करीबी बोले- मजाक में दिया बयान
    डीएसपी ने एक वीडियो में  कहा कि ‘पुलिस वालों की वजह से लोग राजनीतिक नेताओं के निर्देशों का सार्वजनिक रूप से पालन करते हैं. पुलिस के बिना, एक रिक्शा चालक भी राजनेताओं के निर्देश नहीं मानेगा.’ डीएसपी चंदेल ने यह भी कहा कि अगर सिद्धू को पुलिस से कुछ शिकायत है तो वह अपने पास भारी पुलिस सुरक्षा लेना बंद कर दें. उन्होंने कहा, ‘आपने इस तरह के शर्मनाक बयान देकर पूरे पंजाब पुलिस बल को बदनाम किया है.’

    वहीं अंग्रेजी अखबार द इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार सिद्धू के एक करीही सहयोगी ने कहा कि टिप्पणी मजाक में की गई थी. उन्होंने कहा- ‘यह मजाक था. वह पुलिसकर्मियों का अपमान नहीं करना चाहते थे.;

    Tags: Congress, Navjot singh sidhu, Punjab, Punjab Police

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें