कृषि अध्यादेश का AAP सांसद करेंगे विरोध, कहा- अब किसानों की बदहाली का दौर हो जाएगा शुरू
Chandigarh-Punjab News in Hindi

कृषि अध्यादेश का AAP सांसद करेंगे विरोध, कहा- अब किसानों की बदहाली का दौर हो जाएगा शुरू
भगवंत मान ने चेतावनी देते हुए कहा, 'हम केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर के घर के बाहर ट्रैक्टर मार्च निकालेंगे.

आम आदमी पार्टी (AAP) संसद में पेश किए गए किसानों के व्यापार और वाणिज्य (संवर्धन और सुविधा) अध्यादेश-2020, किसान (सशक्तीकरण और संरक्षण) समझौते और आवश्यक वस्तु (संशोधन) अध्यादेश- 2020 बिल का विरोध करेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 15, 2020, 7:48 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. आम आदमी पार्टी (AAP) किसानों के व्यापार और वाणिज्य (संवर्धन और सुविधा) अध्यादेश-2020, किसान (सशक्तीकरण और संरक्षण) समझौते और आवश्यक वस्तु (संशोधन) अध्यादेश-2020 बिल का विरोध करेगी. आम आदमी पार्टी ने कहा है कि पार्टी के सांसद (Member of Parliament)  कल संसद में इसके खिलाफ वोट करेंगे. पार्टी के सांसद भगवंत मान का कहना है कि यह बिल कृषि उद्योग के निजीकरण की दिशा में एक कदम है. इससे एमएसपी समाप्त हो जाएगा और इस बिल के आने के बाद निजी खिलाड़ियों को खुली छूट मिल जाएगी. आप नेता जरनैल सिंह ने भी कहा कि पार्टी के सांसद लोकसभा और राज्यसभा दोनों सदनों में इन बिलों का विरोध करेंगे.

कृषि अध्यादेशों पर AAP का विरोध
मंगलवार को पार्टी मुख्यालय में हुई एक प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए आम आदमी पार्टी के विधायक जरनैल सिंह ने संसद में पेश किए गए एग्रीकल्चर ऑर्डिनेंस (कृषि अध्यादेश) पर बात करते हुए कहा कि जय जवान और जय किसान के नारा लगाने वाले देश में किसानों की बदहाली का जो दौर शुरू हुआ है, उसमें एक और कदम आगे बढ़ाते हुए केंद्र में बैठी मौजूदा सरकार के द्वारा किसानों की जिंदगी और मुश्किल करने के लिए कल जो बिल प्रस्तुत हुआ है. यह बहुत ही दुखद एवं निराशाजनक है.’

latest news of agriculture bill, AAP, Agricultre, bill related to farmers, bill Table in loksabha, Narendra Singh Tomar, Monsoon Session, farmers, loksabha news about agriculture bill, get updates on agriculture bill, bhagwant mann, rajyasabha, भगवंत मान, आम आदमी पार्टी कृषि बिल का करेगी विरोध, आप, आम आदमी पार्टी, किसान बिल, एग्रीकल्चर बिल, कृषि अध्यादेशों का करेगी विरोध, किसानों के व्यापार और वाणिज्य (संवर्धन और सुविधा) अध्यादेश-2020, किसान (सशक्तीकरण और संरक्षण) समझौता, आवश्यक वस्तु (संशोधन) अध्यादेश 2020, जरनैल सिंह, हरसिमरत कौर, अकाली दल, कांग्रेस, अमरिंदर सिंह, पंजाब के किसानआम आदमी पार्टी ने कहा है कि पार्टी के सांसद कल संसद में इसके खिलाफ वोट करेंगे.
आम आदमी पार्टी ने कहा है कि पार्टी के सांसद कल संसद में इसके खिलाफ वोट करेंगे.

अकाली दल और कांग्रेस पर 'आप' का आरोप


आम आदमी पार्टी के सांसद भगवंत मान ने कहा, 'एक कैबिनेट पद बचाने के लिए शिरोमणि अकाली दल ने पंजाब के किसानों के अधिकारों को बेच दिया है. अगर वे वास्तव में किसानों के अधिकारों का समर्थन करना चाहते हैं तो उन्हें इस बिल के खिलाफ मतदान करना चाहिए.'

ट्रैक्टर मार्च निकालेंगे-भगवंत मान
भगवंत मान ने चेतावनी देते हुए कहा, 'हम केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर के घर के बाहर ट्रैक्टर मार्च निकालेंगे. हम ट्रैक्टर लेकर उनके घर के बाहर जमा होंगे. इस बिल की वजह से ट्रांसपोर्टर, पल्लेदार, मजदूर और ट्रैक्टर इंडस्ट्री से जुड़े हुए लोग सभी लोग बेरोजगार हो जाएंगे. एमएसपी खत्म हो जाएगी, किसानों से कहा जाएगा कि आप अपनी जमीन को हमें किराए पर दें, आप अपने खेत में मजदूर बनकर आ सकते हैं नहीं तो यहां आने की कोई जरूरत नहीं है. किसान मालिक होकर भी मजदूर बन जाएगा. पुरानी फिल्मों की तरह ठेका सिस्टम शुरू हो जाएगा कि खेती कोई और करेगा और माल कोई और ले जाएगा.'

Modi government Farmers scheme, opposition, agriculture ordinance 2020, kisan yojana, Politics of farm reform, Contract farming, anti farmer image of government, मोदी सरकार की किसान योजनाएं, विपक्ष का किसान दांव, कृषि अध्यादेश 2020, किसानों की योजनाएं, कृषि सुधार की राजनीति, सरकार की किसान विरोधी छवि
सरकार की कोशिश है कि उसकी छवि किसान विरोधी न बने


ये भी पढ़ें: UP पंचायत चुनाव: 80 % मौजूदा प्रधान, BDC और जिला पंचायत के सदस्य नहीं लड़ सकते चुनाव, ये है वजह



आम आदमी पार्टी के नेताओं ने कांग्रेस पर भी निशाना साधते हुए कहा कि कल एक बड़ा खुलासा हुआ. जब इस बिल को लाने की बात हो रही थी तो पंजाब के मुख्यमंत्री भी इस टीम का हिस्सा थे. उन्होंने माना कि यह बिल आना चाहिए. इसका मतलब यह हुआ कि कांग्रेस भी इसमें शामिल है. आप नेताओं ने कहा कि कांग्रेस साफ करे कि वो किस तरफ है. उनका पक्ष क्या है. एक तरफ कांग्रेस विरोध कर रही है और दूसरी तरफ कह रहे हैं कि यह बिल आना चाहिए. कांग्रेस और अकाली दल मिलकर पंजाब की जनता को गुमराह कर रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज