सिख दंगों पर एसआईटी ने दिलाया भरोसा, कमलनाथ के खिलाफ दोबारा खोल रहे मामला: सिरसा

मनजिंदर सिंह सिरसा ने बताया कि एसआईटी ने उन्‍हें भरोसा दिलाया है कि 1984 सिख दंगा मामले को दोबारा खोला जाएगा और उनका प्राथमिक फोकस कमलनाथ की भूमिका की जांच पर होगा.

News18Hindi
Updated: June 20, 2019, 5:06 PM IST
सिख दंगों पर एसआईटी ने दिलाया भरोसा, कमलनाथ के खिलाफ दोबारा खोल रहे मामला: सिरसा
कमलनाथ के खिलाफ जांच करने के लिए सिख दंगा मामले में बनाई गई एसआईटी के चेयरमैन से मिले सिरसा.
News18Hindi
Updated: June 20, 2019, 5:06 PM IST
अकाली दल के विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा ने 1984 सिख दंगों को लेकर केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा बनाई गई एसआईटी के चेयरमैन से मुलाकात की. सिरसा ने बताया कि उन्‍होंने इस मामले में मध्‍य प्रदेश के मुख्‍यमंत्री कमलनाथ की भूमिका की जांच करने की मांग की, जिस पर एसआईटी की ओर से भरोसा दिलाया गया कि जांच दल इस मामले को दोबारा खोल रहे हैं और उनका प्राथमिक फोकस सीएम कमलनाथ की भूमिका की जांच पर होगा.


हाल ही में सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (डीएसजीपीसी) के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा ने बताया था कि इस मामले में गठित की गई एसआइटी अब उन मामलों की भी जांच कर सकेगी जो या तो बंद हो चुके हैं या फिर उनका ट्रायल पूरा हो गया है. हालांकि, उन्‍होंने यह भी बताया कि उन्हीं मामलों को जांच के लिए फिर से खोला जा सकेगा, जिसमें कोई नया साक्ष्य सामने आया हो. गृह मंत्रालय ने यह आदेश डीएसजीपीसी की ही मांग पर दिया.

कमलनाथ की भूमिका की जांच काे लेकर लंबे समय से हो रही मांग
एक रिपोर्ट का हवाला देते हुए डीएसजीपीसी लंबे समय से कमलनाथ की भूमिका की जांच की मांग करता रहा है. डीएसजीपीसी का आरोप है कि कांग्रेस पिछले 35 साल से कमलनाथ को बचा रही है, जबकि उनके खिलाफ पर्याप्‍त साक्ष्‍य मिले हैं.
Loading...

ये भी पढ़ें

1984 के सिख विरोधी दंगों के 35 मामलों की फिर से जांच करेगी एसआईटी!

1984 सिख विरोधी दंगा: 34 साल, 3 आयोग, 7 कमीशन और 2 SIT, 650 केस में से 268 की फाइल गुम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ (पंजाब) से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 20, 2019, 3:55 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...