होम /न्यूज /पंजाब /जन्म से जुड़े हैं ये 2 भाई, माता-पिता ने भी छोड़ दिया था, अब पंजाब सरकार ने दी सरकार नौकरी

जन्म से जुड़े हैं ये 2 भाई, माता-पिता ने भी छोड़ दिया था, अब पंजाब सरकार ने दी सरकार नौकरी

सोहना और मोहना को पंजाब सरकार ने सरकारी नौकरी दी है.

सोहना और मोहना को पंजाब सरकार ने सरकारी नौकरी दी है.

Punjab Brothers Story: पंजाब सरकार ने सोहना और मोहना में से सोहना को नौकरी दी है. जब उनसे पूछा गया कि कौन सा भाई काम कर ...अधिक पढ़ें

    चंडीगढ़. पंजाब स्टेट पावर कारपोरेशन लिमिटेड (PSPCL) ने जन्म से ही शरीर से जुड़े अमृतसर के सगे भाइयों सोहना और मोहना (Conjoined brothers Sohna and Mohana) में से सोहना को नौकरी दी है. अखिल भारतीय पिंगलवाड़ा चैरिटेबल सोसाइटी के प्रशासनिक अधिकारी कर्नल (सेवानिवृत्त) दर्शन सिंह बाबा (Col Retd Darshan Singh Baba) ने इसकी पुष्टि की है.

    उन्होंने बताया कि जुड़वा बच्चों को 27 नवंबर को एक पत्र मिला था. भाइयों को अपनी शैक्षिक योग्यता (educational qualification) और आधार जैसे दस्तावेज जमा करने के लिए कहा गया है. कर्नल बाबा ने कहा कि उनसे यह भी पूछा गया है कि कौन सा भाई काम करेगा. उन्होंने कहा कि वह चाहते हैं कि दोनों को रोजगार मिले. दोनों ट्रेनिंग से इलेक्ट्रॉनिक डिप्लोमा होल्डर हैं. सोहना और मोहना को पिंगलवाड़ा ने 2003 में गोद लिया था जब उनके माता-पिता ने बच्चों को छोड़ दिया था.

    सोहना और मोहना ने एक साथ पढ़ाई की है.

    डॉक्टरों को थी आशंका, ज्यादा समय तक जिंदा नहीं रहेंगे दोनों भाई
    जन्म से ही शरीर से जुड़े होने के बाद डॉक्टरों ने आशंका जताई थी कि वे ज्यादा समय तक जिंदा नहीं रहेंगे. गरीबी के कारण उनके माता पिता ने भी उन्हें छोड़ दिया था. जिसके बाद अखिल भारतीय पिंगलवाड़ा चैरिटेबल सोसाइटी ने पालन पोषण किया. जबिक अब पंजाब स्टेट पावर कॉर्पोरेशन लिमिटेड में नौकरी लगने के बाद वे अपना पालन पोषण करने में स्वयं सक्षम होंगे.

    दोनों बिजली विभाग में काम करेंगे.

    रेगुलर टी मैट (मेंटेनेंस कर्मचारी) के रूप में करेंगे काम
    दोनों डेंटल कॉलेज के पास बने बिजलीघर में रेगुलर टी मैट (मेंटेनेंस कर्मचारी) के रूप में काम करेंगे. 11 दिसंबर 2021 को उन्हें अपॉइंटमेंट लेटर दिया गया था.

    हर महीने 20 हजार रुपये की सैलरी मिलेगी
    जानकारी के मुताबिक सोहना को हर महीने 20 हजार रुपये की सैलरी मिलेगी. दोनों ने इसी साल जुलाई में इलेक्ट्रिकल डिप्लोमा पूरा किया है. उन्होंने पंजाब स्टेट पावर कार्पोरेशन लिमिटेड में जूनियर इंजीनियर के पद पर भर्ती के लिए आवेदन किया था. दोनों को नौकरी किसे दी जाए इस बात को लेकर कंपनी दुविधा में थी, क्योंकि दोनों की योग्यता एक समान है. कंपनी मैनेजमेंट ने फाइनल डिसीजन लेते हुए सोहना को नौकरी पर रखा. सोहना ने बताया कि पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने नौकरी देने का आश्वासन दिया था.

    Tags: Amarinder Singh, CM Charanjit Singh Channi, Punjab

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें