CGST विभाग की पंजाब में रेड, 700 करोड़ की फर्जी बिलिंग करने वाले 5 गिरफ्तार

पुलिस ने  इस मामले में पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया लिया है जबकि दो आरोपी फरार हो गए हैं (सांकेतिक तस्वीर)

पुलिस ने इस मामले में पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया लिया है जबकि दो आरोपी फरार हो गए हैं (सांकेतिक तस्वीर)

CGST Raid in Punjab: जानकारी के अनुसार CGST विभाग की नौ टीमों ने एक साथ लुधियाना के खन्ना (Khanna in Ludhiana) में सुबह करीब पांच बजे रेड की. रेड के दौरान अधिकारियों ने पांच लोगों को हिरासत में ले लिया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 13, 2021, 5:27 PM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. सेंट्रल गुड्स एंड सर्विस टैक्स विभाग (The Central Goods and Service Tax) ने शनिवार को पंजाब के विभिन्न इलाकों में रेड करके 700 करोड़ की फर्जी बिलिंग (Fake billing of Rs 700 crore) करने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया है. इस मामले में पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया लिया है जबकि दो आरोपी फरार हो गए हैं. फर्जी बिलिंग के लिए आरोपियों ने 44 फर्में बना रखी थीं। आरोपियों ने फर्जी बिलिंग से सरकार को 122 करोड़ रुपए का चूना लगाया है. आरोपियों में नगर काउंसिल का चुनाव लड़ चुका एक आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) का नेता भी शामिल है.

जानकारी के अनुसार CGST विभाग की नौ टीमों ने एक साथ लुधियाना के खन्ना (Khanna in Ludhiana) में सुबह करीब पांच बजे रेड की. रेड के दौरान अधिकारियों ने पांच लोगों को हिरासत में ले लिया. उन्हें पीडब्ल्यूडी भट्टियां के रेस्ट हाउस ले जाया गया, जहां उनसे पूछताछ की गई. विभाग के एडिशनल कमिश्नर शौकत अहमद परे (Additional Commissioner Shaukat Ahmad Pare) ने मीडिया को बताया कि जांच के दौरान पाया गया कि दस हजार प्रतिमाह कमाने वाले एक शख्स के अकाउंट में 13 करोड़ रुपए की ट्रांजेक्शन हुई थी. जिससे इस बड़े स्कैम का खुलासा हुआ.

ये भी पढ़ें- पूर्व बीजेपी नेता यशवंत सिन्हा टीएमसी में हुए शामिल, अटल सरकार में थे मंत्री

उन्होंने बताया कि रेड के दौरान एक कंप्यूटर भी बरामद किया गया है जिसी जांच चल रही है और इससे कई राज खुलने की संभावना है. उन्होंने कहा कि यह रेड कुछ समय पूर्व पकड़ी गई एक गाड़ी के माध्यम से विभाग के अधिकारियों को जानकारी मिली थी कि पंजाब में बड़े पैमाने पर कर चोरी करने वाला एक गिरोह सक्रिय है. विभाग को इस बात की जानकारी थी कि बिना बिल के मंडी गोबिंदगढ़ में माल बेचा जा रहा था. जिसके आधार पर यह कार्रवाई की गई है.
ये भी पढ़ें- दिल्ली की सीमाओं पर आंदोलन कर रहे किसान अब बना रहे हैं पक्के घर

रेड करने वाली टीम में होशियारपुर, लुधियाना, पटियाला, जालंधर, फतेहगढ़ साहिब समेत कई जिलों के अधिकारी शामिल थे। विभाग की गिरफ्त से दो आरोपी भाग निकले हैं जिन्हें जल्द गिरफतार किए जाने की संभावना है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज