होम /न्यूज /पंजाब /चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी वीडियो कांडः आरोपित छात्रा पकड़े गए सेना के जवान को कर रही थी डेट

चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी वीडियो कांडः आरोपित छात्रा पकड़े गए सेना के जवान को कर रही थी डेट

चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी VIDEO केस में आरोपित छात्रा पकड़े गए सेना के एक जवान को डेट कर रही थी.

चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी VIDEO केस में आरोपित छात्रा पकड़े गए सेना के एक जवान को डेट कर रही थी.

कथित तौर पर जवान संजीव सिंह ने मोहाली पुलिस को आरोपित छात्रा के साथ अपने संबंधों के बारे में बताया. जवान संजीव सिंह और ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

हाइलाइट्स

वीडियो कांड में गिरफ्तार सेना के जवान ने पुलिस को आरोपित छात्रा के साथ अपने रिश्ते की जानकारी दी.
पुलिस इस बात की जांच कर रही है कि आरोपित छात्रा ने जवान को वीडियो भेजा था कि नहीं.
पुलिस ने अभी तक 4 लोगों को गिरफ्तार किया है.

चंडीगढ़. चंडीगढ़ विश्वविद्यालय एमएमएस स्कैंडल के सिलसिले में अरुणाचल प्रदेश से गिरफ्तार किए गए सेना के जवान संजीव सिंह आरोपित छात्रा के साथ रिलेशनशिप में था, जो कथित तौर पर छात्रावास में लड़कियों की अश्लील वीडियो बना रही थी. कथित तौर पर जवान संजीव सिंह ने मोहाली पुलिस को आरोपित छात्रा के साथ अपने संबंधों के बारे में बताया. इंडिया टुडे टीवी ने सूत्रों के हवाले से लिखा कि जवान संजीव सिंह और आरोपित छात्रा की सोशल मीडिया पर मुलाकात हुई थी. इसके बाद दोनों ने एक-दूसरे के साथ अपना मोबाइल फोन नंबर शेयर किया था. हालांकि अभी यह पता नहीं चल पाया है कि आरोपित छात्रा ने संजीव सिंह के साथ भी वीडियो शेयर किया था या नहीं.

पुलिस को संजीव के पास से दो मोबाइल फोन मिले हैं. जब आरोपित छात्रा से हॉस्टल मैनेजर द्वारा पूछताछ की जा रही थी, तो पता चला कि कोई उसे लगातार मैसेज कर रहा था. बाद में, एक व्हाट्सएप चैट से पता चला कि वह संजीव सिंह के साथ चैट कर रही थी, जो कथित तौर पर उससे वीडियो और तस्वीरें भेजने के लिए कह रहा था. चैट के ट्रांसक्रिप्ट से पता चला कि आरोपित छात्रा पर वीडियो बनाने का दबाव था. उसने संजीव से यहां तक ​​कह दिया कि उसने फोटो और वीडियो मांगकर उसे शर्मनाक स्थिति में डाल दिया था. क्योंकि वह तस्वीरें क्लिक करते हुए पकड़ी गई थी. युवती ने अपने फोन कॉन्टैक्ट में संजीव सिंह का नंबर सेव करने के लिए रंकज वर्मा की फोटो का इस्तेमाल किया था.

रंकज वर्मा ने मांगी जमानत
मामले में एक अन्य आरोपी, रंकज वर्मा, जिसने दावा किया था कि वह निर्दोष है और शिमला के आरोपी और उसके प्रेमी सनी मेहता को वह नहीं जानता था, उसने अब अदालत में जमानत याचिका दायर की है. रंकज ने पुलिस को बताया कि उसकी डीपी की वजह से पुलिस ने उसे पकड़ा और उसकी कोई गलती नहीं थी. यह जानकारी रंकज के भाई ने दी है. लड़की, उसके प्रेमी और उसके दोस्त रंकज का पुलिस रिमांड आज खत्म हो जाएगा. पुलिस मोबाइल फोन और लड़की के लैपटॉप की फोरेंसिक रिपोर्ट का बेसब्री से इंतजार कर रही है, जिससे पता चलेगा कि उसने तस्वीरें क्लिक की और वीडियो बनाया या नहीं.

चंडीगढ़ विश्वविद्यालय वीडियो लीक मामला
बता दें कि 18 सितंबर को, छात्राओं द्वारा आरोप लगाया गया कि कई महिला छात्रावास निवासियों के “निजी” और “आपत्तिजनक” वीडियो इंटरनेट पर लीक हुए हैं. इसके बाद चंडीगढ़ विश्वविद्यालय परिसर के अंदर बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए. इस मामले में अब तक पंजाब पुलिस ने चार लोगों को गिरफ्तार किया है. सूत्रों के अनुसार, सनी मेहता और रंकज वर्मा ने कथित तौर पर महिला के निजी वीडियो लीक करने की धमकी दी, जब तक कि उसने अन्य छात्राओं का वीडियो नहीं बनाया.

Tags: Chandigarh

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें