होम /न्यूज /पंजाब /पाकिस्‍तान ड्रोन से पंजाब भेज रहा चीन में बने हथियारों की खेप, तस्‍करों का सनसनीखेज खुलासा

पाकिस्‍तान ड्रोन से पंजाब भेज रहा चीन में बने हथियारों की खेप, तस्‍करों का सनसनीखेज खुलासा

पाकिस्‍तान ड्रोन के जरिये भारत में चीन निर्मित हथियारों की तस्‍करी करने लगा है. गिरफ्तार तस्‍करों के पास से चीनी हथियार मिले हैं. (न्‍यूज 18 हिन्‍दी)

पाकिस्‍तान ड्रोन के जरिये भारत में चीन निर्मित हथियारों की तस्‍करी करने लगा है. गिरफ्तार तस्‍करों के पास से चीनी हथियार मिले हैं. (न्‍यूज 18 हिन्‍दी)

Punjab News: पाकिस्‍तान चीनी हथियारों की खेप ड्रोन के जरिये पंजाब पहुंचाने लगा है. खुफिया एजेंसी ने इससे जुड़े मॉड्यूल ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

पंजाब में ड्रोन के जरिये होने लगी है हथियारों की तस्‍करी
तस्‍करों के पास से चीन निर्मित 5 पिस्‍टल बरामद
10 विदेशी पिस्‍टल के साथ 2 तस्‍कर किए गए गिरफ्तार

एस. सिंह

चंडीगढ़. पंजाब पुलिस ने ड्रोन के जरिए हथियारों की तस्करी करने वाले एक और मॉड्यूल का पर्दाफाश किया है. पुलिस ने मामले में 10 विदेशी पिस्टलों के साथ दो लोगों का गिरफ्तार किया है. आरोपियों की पहचान तरनतारन के भिखीविंड निवासी जसकरन सिंह और रतनबीर सिंह निवासी खेमकरन के तौर पर हुई है. जसकरन सिंह सब-जेल गोइंदवाल साहिब में बंद था, जबिक रतनबीर सिंह एक आपराधिक मामले में जमानत पर बाहर था. इस बार पाकिस्‍तान की ओर से चीन में बने हथियारों की खेप भेजी गइ है.

पुलिस ने दोनों के पास से पांच .30 बोर (चाइना निर्मित) और पांच 9 एमएम (USA आधारित बरेटा) समेत 10 विदेशी पिस्टल और 8 स्पेयर मैगजीन बरामद की है. इसके अलावा जसकरन द्वारा जेल की बैरक में छुपाया एक मोबाइल फोन भी बरामद किया गया है. एआईजी काउंटर इंटेलिजेंस (CI, अमृतसर) अमरजीत सिंह बाजवा ने बताया कि आरोपी जसकरन सिंह एनडीपीएस एक्ट के तहत जेल में बंद था, जिसे प्रोडक्शन वारंट पर गिरफ्तार करके लाया गया है. पूछताछ के दौरान जसकरन ने कबूला कि वह ड्रोन द्वारा पाकिस्तान से नशीले पदार्थों, हथियारों और गोला-बारूद की तस्करी के लिए व्हाट्सएप द्वारा पाकिस्तानी तस्करों के साथ संपर्क में था.

बर्खास्‍त CIA इंचार्ज ने 4 घंटे तक दबाए रखी थी टीनू के फरार होने की सूचना, 2 गर्लफ्रेंड ने की थी गैंगस्‍टर की मदद 

एआईजी ने बताया कि जसकरन इसके लिए आरोपी रतनबीर की मदद ले रहा था, जो अलग-अलग सरहदी इलाकों से ड्रोन द्वारा फेंकी गई खेपों को हासिल करता था. रतनबीर भी जसकरन सिंह के साथ एनडीपीएस के कई मामलों में दोषी है. उन्होंने बताया कि आरोपी जसकरन की निशानदेही पर तरनतारन-फिऱोजपुर रोड पर स्थित गांव पिढ़ी में बताए ठिकाने से पांच .30 बोर के पिस्टल और चार अतिरिक्त मैगजीन बरामद की है, जिसको रतनबीर की तरफ से 28 और 29 सितम्बर की रात को छिपाया गया था.

एआईजी अमरजीत सिंह बाजवा ने बताया कि जसकरन की तरफ से दी गई जानकारी पर कार्रवाई करते हुए काउंटर इंटेलिजेंस अमृतसर की पुलिस ने रतनबीर को खेमकरन से गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है. उसके खुलासे पर 9 एमएम के पांच और पिस्टल समेत चार अतिरिक्त मैगजीन बरामद किए हैं, जिसे उसने खेमकरन के गांव माछीके में ड्रेन के नजदीक छुपाए हुए थे.

Tags: National News, Punjab news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें