• Home
  • »
  • News
  • »
  • punjab
  • »
  • पंजाब में कोविशील्ड का स्टॉक फिर खत्म, कैप्टन ने केंद्र सरकार से की मांग

पंजाब में कोविशील्ड का स्टॉक फिर खत्म, कैप्टन ने केंद्र सरकार से की मांग

मुख्यमंत्री ने पाया कि राज्य सरकार पहले ही 62 लाख से अधिक योग्य व्यक्तियों को टीके लगा चुकी है और बिना किसी बर्बादी से स्टाक का प्रयोग कर रही है. (File pic)

मुख्यमंत्री ने पाया कि राज्य सरकार पहले ही 62 लाख से अधिक योग्य व्यक्तियों को टीके लगा चुकी है और बिना किसी बर्बादी से स्टाक का प्रयोग कर रही है. (File pic)

Punjab Coronavirus Vaccination: मौजूदा समय में टीकाकरण के लिए पंजाब की योग्य आबादी के 4.8 प्रतिशत हिस्से का मुकम्मल टीकाकरण हो चुका है और जिला मोहाली पहली और दूसरी खुराक देने में अग्रणी है.

  • Share this:
    चंडीगढ़. पंजाब में एक बार फिर से कोविशील्ड वैक्सीन (Covishield vaccine) का स्टाक खत्म हो गया है. यही नहीं स्वास्थ्य विभाग (Health Department) के पास कोवैक्सीन के भी 112821 ही डोज बचे हैं. मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Chief Minister Captain Amarinder Singh) ने केंद्र से और वैक्सीन मुहैया करवाने की मांग की है. उन्होंने कहा है कि केंद्र सरकार (Central Government) जल्द पंजाब को वैक्सीन मुहैया करवाए जिससे अगले दो महीनों में योग्य व्यक्तियों का टीकाकरण (vaccination) मुकम्मल करने और 18-45 साल आयु वर्ग के सभी व्यक्तियों को कोविड के टीके लगाए जा सकें.

    हो चुका है 4.8 प्रतिशत का टीकाकरण
    मुख्यमंत्री ने कहा कि टीकाकरण में सबसे पहले प्राथमिक वर्गों को कवर करने के लिए कोशिश की जाएगी. उन्होंने कहा कि उनकी सरकार ने दो महीनों में सभी योग्य व्यक्तियों के टीकाकरण का लक्ष्य निश्चित किया है जिसके बाद समय-सूची के अनुसार टीके की दूसरी खुराक दी जाएगी. मौजूदा समय में टीकाकरण के लिए पंजाब की योग्य आबादी के 4.8 प्रतिशत हिस्से का मुकम्मल टीकाकरण हो चुका है और जिला मोहाली पहली और दूसरी खुराकें लगाने में अग्रणी है.

    ये भी पढ़ें- मॉडर्ना को मंजूरी, फाइजर पर भी फैसला जल्द, देश में अब 4 कोरोना वैक्सीन-केंद्र

    कोविड समीक्षा वर्चुअल मीटिंग के दौरान पंजाब में टीकाकरण की प्रगति और स्थिति का जायजा लेते हुए मुख्यमंत्री ने पाया कि राज्य सरकार पहले ही 62 लाख से अधिक योग्य व्यक्तियों को टीके लगा चुकी है और बिना किसी बर्बादी के स्टाक का प्रयोग कर रही है. हालांकि बड़े स्तर पर टीकों की कमी है. मौजूदा समय राज्य में कोविशील्ड का भंडार खत्म हो चुका है और कोवैक्सीन टीकों का भी बहुत कम भंडार उपलब्ध है.

    राज्य सरकार की तरफ से बार-बार भारत सरकार के पास खुराकों की कमी संबंधी मुद्दा उठाया जा रहा है. कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि यह अहम हो गया है क्योंकि पंजाब अब धीरे-धीरे कम से कम एक खुराक लेने की शर्त पर काम करने को ढील दे रहा है. उन्होंने कहा कि वह इस मुद्दे को तुरंत केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री के समक्ष उठाएंगे और जरूरत पड़ने पर प्रधान मंत्री के समक्ष भी यह मुद्दा उठाएंगे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज