लाइव टीवी
Elec-widget

पंजाब में दलित को खंबे से बांधकर लाठी-डंडे से पीटा, पानी मांगने पर पिलाई पेशाब

भाषा
Updated: November 15, 2019, 11:08 PM IST
पंजाब में दलित को खंबे से बांधकर लाठी-डंडे से पीटा, पानी मांगने पर पिलाई पेशाब
पीड़ित ने आरोप लगाया कि जब वह घर पहुंचा तो चार लोगों ने उसकी पिटाई की और खंभे से बांध दिया. जब उसने पानी मांगा तो उसे पेशाब पीने को मजबूर किया गया. (सांकेतिक तस्वीर)

पीड़ित ने आरोप लगाया कि जब वह घर पहुंचा तो चार लोगों ने उसकी पिटाई की और खंभे से बांध दिया. जब उसने पानी मांगा तो उसे पेशाब पीने को मजबूर किया गया.

  • भाषा
  • Last Updated: November 15, 2019, 11:08 PM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. पंजाब (Punjab) के संगरूर जिले (Sangrur) में एक 37 वर्षीय दलित की पुराने विवाद में खंभे से बांधकर कर पिटाई (Beaten) की गई और पेशाब (Urine) पीने को मजबूर किया गया. पुलिस ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. पुलिस ने बताया कि पीड़ित छांगलीवाला गांव का रहने वाला है और रिंकू नामक शख्स एवं कुछ अन्य लोगों के साथ उसका विवाद था. पीड़ित ने पुलिस को बताया कि सात नवंबर को रिंकू ने विवाद पर बात करने के लिए अपने घर बुलाया.

पीड़ित ने आरोप लगाया कि जब वह घर पहुंचा तो चार लोगों ने लाठी-डंडे से उसकी पिटाई की और खंभे से बांध दिया. जब उसने पानी मांगा तो उसे पेशाब पीने को मजबूर किया गया. पुलिस ने बताया कि चार लोगों के खिलाफ अवैध तरीके से बंधक बनाने और भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के साथ-साथ अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम के तहत लेहरा थाने में मामला दर्ज किया गया है.

पंजाब अनुसूचित जाति आयोग ने भी संगरूर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से मामले में रिपोर्ट देने को कहा है. आयोग की अध्यक्ष तेजिंदर कौर ने एक बयान में कहा कि मीडिया में आई खबरों से घटना की जानकारी मिली जिसके आधार पर स्व संज्ञान लेकर रिपोर्ट तलब की गयी है.
भी पढ़ें-रोजाना 7 रुपये बचाकर पाएं 5 हजार की पेंशन, 1.9 करोड़ लोगों ने उठाया इसका फायदा

ये भी पढ़ें- '100 रुपये प्रति क्विंटल की सहायता से खत्म हो जाएगी पराली की समस्या'

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ (पंजाब) से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 15, 2019, 11:06 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...