Home /News /punjab /

Punjab Election 2022: चुनावों से पहले केजरीवाल सरकार का मास्‍टर स्‍ट्रोक, श्री अकाल तख्‍त और मनोनीत सदस्‍यों की संख्‍या बढ़ाई

Punjab Election 2022: चुनावों से पहले केजरीवाल सरकार का मास्‍टर स्‍ट्रोक, श्री अकाल तख्‍त और मनोनीत सदस्‍यों की संख्‍या बढ़ाई

दिल्ली सिख गुरुद्वारा में मनोनीत सदस्‍यों की संख्‍या को बढ़ाने का फैसला क‍िया है.

दिल्ली सिख गुरुद्वारा में मनोनीत सदस्‍यों की संख्‍या को बढ़ाने का फैसला क‍िया है.

Punjab Elections 2022: द‍िल्‍ली व‍िधानसभा में गुरुद्वारा चुनाव मंत्री राजेन्‍द्रपाल गौतम की ओर से दिल्ली सिख गुरुद्वारा (संशोधन) विधेयक 2022 पेश किया गया है. इस व‍िधेयक में मनोनीत सदस्यों की सूची में एक और सदस्य जोड़ने के लिए प्रस्‍ताव क‍िया गया. इसके बाद अब 9 सदस्यों की जगह 10 सदस्य हो सकेंगे. व‍िधेयक पेश करते हुए सदन को अवगत कराया क‍ि इस संशोधन के जरिए डीएसजीएमसी (DSGMC) के मनोनीत सदस्यों के रूप में श्री अकाल तख्तों के मौजूदा 4 प्रधान पुजारियों की सूची में एक और प्रधान पुजारी श्री अकाल तख्त, दमदमा साहिब तलवंडी साबो भटिंडा, पंजाब को जोड़ा गया है.

अधिक पढ़ें ...

    नई द‍िल्‍ली. आगामी पंजाब चुनावों (Punjab Election) से पहले द‍िल्‍ली सरकार (Delhi Government) ने पंजाब वोटरों को र‍िझाने के ल‍िए बड़ा फैसला क‍िया है. द‍िल्‍ली की आम आदमी पार्टी सरकार (AAP Government) ने दिल्ली सिख गुरुद्वारा (Delhi Sikh Gurdwara) में मनोनीत सदस्‍यों की संख्‍या को बढ़ाने का फैसला क‍िया है.

    इस संबंध में आज द‍िल्‍ली व‍िधानसभा में गुरुद्वारा चुनाव मंत्री राजेन्‍द्रपाल गौतम (Rajendra Pal Gautam) की ओर से दिल्ली सिख गुरुद्वारा (संशोधन) विधेयक 2022 पेश किया गया है. इस व‍िधेयक में मनोनीत सदस्यों की सूची में एक और सदस्य जोड़ने के लिए प्रस्‍ताव क‍िया गया. इसके बाद अब 9 सदस्यों की जगह 10 सदस्य हो सकेंगे.

    ये भी पढ़ें: Punjab Assembly Election 2022: पंजाब में AAP ने 5 और उम्मीदवारों की घोषणा की, जानें कौन कहां से लड़ेंगे चुनाव

    मंत्री गौतम ने व‍िधेयक पेश करते हुए सदन को अवगत कराया क‍ि इस संशोधन के जरिए डीएसजीएमसी (DSGMC) के मनोनीत सदस्यों के रूप में श्री अकाल तख्तों के मौजूदा 4 प्रधान पुजारियों की सूची में एक और प्रधान पुजारी श्री अकाल तख्त, दमदमा साहिब तलवंडी साबो भटिंडा, पंजाब को जोड़ा गया है.

    इस संशोधन के तहत मनोनीत सदस्यों की संख्या 5 हो जाएगी. जिसमें श्री अकाल तख्त साहिब अमृतसर, श्री अकाल तख्त साहिब आनंदपुर, श्री अकाल तख्त साहिब पटना, श्री अकाल तख्त हुजूर साहिब नांदेड़ और श्री अकाल तख्त दमदमा साहिब के प्रमुख पुजारी तलवंडी साबो, भटिंडा पंजाब होंगे.

    वहीं धारा 16 की उप-धारा एक और उप-धारा दो के तहत कार्यकारी बोर्ड के पदाधिकारी और अन्य सदस्यों के चुनाव के उद्देश्य से किसी भी प्रधान पुजारी को मतदान का अधिकार नहीं होगा. प्रस्तावित संशोधन के बाद डीएसजीएमसी में कुल 46 निर्वाचित सदस्य और 10 मनोनीत सदस्य होंगे.‌ जिससे डीएसजीएमसी सदस्यों की कुल संख्या 56 हो जाएगी.

    वहीं दिल्ली विधान सभा द्वारा प्रस्तावित विधेयक पारित किया गया है. भारत के राष्ट्रपति के विचार और सहमति के लिए उपराज्यपाल, दिल्ली द्वारा आरक्षित किए जाने की आवश्यकता होगी.

    Tags: Akal Takht Jathedar, Assembly, Delhi Government, Delhi news, Punjab Election 2022, Punjab elections, Punjab news

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर