इराक में 8 महीने तक फंसे रहे नौकरी के लिए गए 7 युवक, ऐसे पहुंचे भारत

इराक में आठ महीने तक फंसे रहने के बाद 28 वर्षीय कोमलजोत यहां कौलसार मोहल्ला स्थित अपने घर आखिरकार लौट आया. दरअसल, एक महिला ट्रैवल एजेंट ने नौकरी दिलाने के बहाने कोमलजीत सहित सात युवकों के साथ कथित तौर पर ठगी की थी.

News18Hindi
Updated: July 28, 2019, 11:45 PM IST
इराक में 8 महीने तक फंसे रहे नौकरी के लिए गए 7 युवक, ऐसे पहुंचे भारत
अच्छी नौकरी के लिए गए थे इराक, 8 महीने तक दर-दर भटकने के बाद वापस आया युवक. (फाइल फोटो)
News18Hindi
Updated: July 28, 2019, 11:45 PM IST
इराक में आठ महीने तक फंसे रहने के बाद 28 वर्षीय कोमलजोत यहां कौलसार मोहल्ला स्थित अपने घर आखिरकार लौट आया. दरअसल, एक महिला ट्रैवल एजेंट ने नौकरी दिलाने के बहाने कोमलजीत सहित सात युवकों के साथ कथित तौर पर ठगी की थी. कोमलजीत के परिवार के सदस्यों ने रविवार को संवाददाताओं से कहा, उन्होंने ट्रैवल एजेंट को 2.80 लाख रुपये दिए थे. उसने इराक में कोमलजोत को एक अच्छी नौकरी दिलाने का वादा किया था. लेकिन, वहां पहुंचने के बाद उसे बदतर स्थिति का सामना करना पड़ा. एक रोटी के लिए भी दर-दर भटकना पड़ा. उसके दस्तावेज भी ले लिये गए थे.

भारत वापस आने के लिए उसके पास नहीं थे पैसे
परिवार के सदस्यों ने बताया, 'एजेंट ने वहां एक आलीशान होटल में अच्छी नौकरी दिलाने का वादा किया था, लेकिन अन्य लोगों के साथ उसे एक कमरे में डाल दिया गया. भारत वापस आने के लिए उसके पास पैसे भी नहीं थे.' कोमलजीत और छह अन्य लोग शनिवार को नई दिल्ली हवाई अड्डा पहुंचे. उन्होंने विदेश मंत्री के समक्ष अपना मामला उठाने के लिए केंद्रीय मंत्री एवं शिरोमणि अकाली दल की सांसद हरसिमरत कौर बादल को धन्यवाद दिया.

ये 6 युवक भी स्वदेश लौटे

विदेश मंत्री ने इरबिल में महावाणिज्य दूत को कोमलजीत की वापसी के लिए जरूरी कदम उठाने का निर्देश दिया था. छह अन्य युवक- प्रभजोत सिंह, अमनदीप, संदीप, सौरभ, बलजीत और रणदीप भी अपने-अपने घर वापस आ गए हैं. फगवाड़ा के डीएसपी मंजीत सिंह के मुताबिक, महिला एजेंट और उसके रिश्तेदार के खिलाफ 30 मई को धोखाधड़ी का एक मामला दर्ज किया गया था.

ये भी पढ़ें -

लुधियाना में बनेगी साइकिल वैली, युवाओं को मिलेगा रोजगार
Loading...

गन लाइसेंस चाहिए तो लगाने होंगे 10 पौधे
First published: July 28, 2019, 11:29 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...