होम /न्यूज /पंजाब /अमृतपाल की मुश्किलें बढ़ीं, खालिस्तानी नेता के 5 साथियों पर NSA, जानें पूरी अपडेट

अमृतपाल की मुश्किलें बढ़ीं, खालिस्तानी नेता के 5 साथियों पर NSA, जानें पूरी अपडेट

पंजाब पुलिस आईजी, हेडक्वार्टर सुखचैन सिंह गिल ने कहा पुलिस के पास आईएसआई से संबंध होने और फॉरेन फंडिंग के पर्याप्त सबूत मौजूद हैं.

पंजाब पुलिस आईजी, हेडक्वार्टर सुखचैन सिंह गिल ने कहा पुलिस के पास आईएसआई से संबंध होने और फॉरेन फंडिंग के पर्याप्त सबूत मौजूद हैं.

NSA on Amritpal and his aides: अमृतपाल के खिलाफ यह कार्रवाई अमृतसर के नजदीक अजनाला थाने की घटना के कई हफ्तों बाद की गई ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

वारिस पंजाब दे प्रमुख अमृतपाल सिंह के साथ-साथ अब उसके करीबियों की मुश्किलें भी बढ़ती जा रही हैं
देर रात अमृतपाल के चाचा हरजीत सिंह और उसके ड्राइवर ने पंजाब पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया था
अमृतपाल सिंह के पांच साथियों पर NSA की कार्रवाई की गई, उस पर भी लग सकता है एनएसए

चंडीगढ़. खालिस्तानी समर्थक और वारिस पंजाब दे प्रमुख अमृतपाल सिंह (Amritpal Singh) के साथ-साथ अब उसके करीबियों और सहयोगियों की मुश्किलें भी बढ़ती जा रही हैं. बीते रविवार की देर रात को अमृतपाल सिंह के चाचा हरजीत सिंह (Harjeet Singh) और उसके ड्राइवर ने पंजाब पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया था. वहीं अब खबर है कि अमृतपाल सिंह के पांच साथियों पर NSA के तहत कार्रवाई की गई है. साथ ही अमृतपाल पर भी NSA लगाया जा सकता है. पुलिस के अनुसार गिरफ्तारी के बाद अमृतपाल पर NSA के तहत कार्रवाई की जाएगी. मामले में पंजाब पुलिस आईजी, हेडक्वार्टर सुखचैन सिंह गिल ने कहा पुलिस के पास आईएसआई से संबंध होने और फॉरेन फंडिंग के पर्याप्त सबूत मौजूद हैं.

अमृतपाल को खालिस्तानी मूवमेंट के लिए विदेशों से पैसा थोड़ा-थोड़ा करके भेजा गया. साथ ही अमृतपाल के साथियों के पास मिली महंगी गाड़ियां भी उनकी आय के स्त्रोतों से परे हैं. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि अमृतपाल के पांचों साथी गिरफ्तार कर डिब्रूगढ़ भेजे गये हैं. बता दें कि इससे पहले पुलिस की सख्ती के बाद अमृतपाल के चाचा हरजीत सिंह और उसके ड्राइवर ने सरेंडर कर दिया था. पुलिस के साथ हुई हाई स्पीड चेज में अमृतपाल के साथ शनिवार को गाड़ी में उसका चाचा हरजीत सिंह भी मौजूद था. पुलिस के नाके पर अमृतपाल के साथ उसका चाचा और ड्राइवर व एक अन्य व्यक्ति भागने में सफल हो गए थे. जालंधर ग्रामीण एसएसपी स्वर्णदीप सिंह ने इसकी जानकारी दी.

गौरतलब है कि अमृतपाल के खिलाफ यह कार्रवाई अमृतसर के नजदीक अजनाला थाने की घटना के कई हफ्तों बाद की गई है. अजनाला थाने को अमृतपाल समर्थकों ने घेर लिया था और पुलिस को यह आश्वासन देने को मजबूर किया था कि उनके एक साथी को रिहा कर दिया जाएगा. अजनाला की घटना के बाद पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान (Bhagwant Mann) ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) से मुलाकात की थी. इससे कुछ दिन पहले अमृतपाल सिंह ने अमित शाह को भी धमकी दी थी.

Tags: Amritpal Singh, Khalistani, Punjab Police

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें