लाइव टीवी

CM के आदेश बावजूद शहीद जयमल सिंह के अंतिम संस्कार में नहीं पहुंचे सिद्धू

मोहित मल्होत्रा | News18Hindi
Updated: February 18, 2019, 5:27 PM IST
CM के आदेश बावजूद शहीद जयमल सिंह के अंतिम संस्कार में नहीं पहुंचे सिद्धू
नवजोत सिंह सिद्धू फाइल फोटो

नवजोत सिंह सिद्धू शहीद जयमल सिंह के अंतिम संस्कार में नहीं पहुंचे. मोगा ना आकर वो लुधियाना में नगर निगम के कार्यक्रम में पहुंचे. जहां पर उन्होंने नगर निगम के कामों को लेकर कई ग्रांट जारी की.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 18, 2019, 5:27 PM IST
  • Share this:
मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने शुक्रवार देर रात एक प्रेस रिलीज जारी करके जानकारी दी थी कि उन्होंने पंजाब के शहीद हुए 4 जवानों के अंतिम संस्कार के कार्यक्रम के दौरान पंजाब के कैबिनेट मंत्रियों की ड्यूटी लगाई है. जोकि अंतिम संस्कार के दौरान मौजूद रहेंगे. मोगा में शहीद जयमल सिंह के अंतिम संस्कार के लिए पंजाब के कैबिनेट मिनिस्टर नवजोत सिंह सिद्धू की ड्यूटी लगाई गई थी. इस बारे में स्थानीय विधायक और स्थानीय डीसी को उनके आने की जानकारी भी दी गई थी.

लेकिन नवजोत सिंह सिद्धू शहीद जयमल सिंह के अंतिम संस्कार में नहीं पहुंचे. मोगा ना आकर वो लुधियाना में नगर निगम के कार्यक्रम में पहुंचे. जहां पर उन्होंने नगर निगम के कामों को लेकर कई ग्रांट जारी की. इस दौरान सिद्धू ने मीडिया से भी बात की. लेकिन शहीद के अंतिम संस्कार में ना जाकर पहले वो नगर निगम के कार्यक्रम में पहुंच गए.

नवजोत सिंह सिद्धू ने लुधियाना में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि उन्होंने जो बयान दिया था कि आतंकवाद का कोई मजहब या देश नहीं होता उसे गलत तरीके से पेश किया गया. उनके बयान की सिर्फ एक ही लाइन दिखाई जा रही है. जबकि अगर उनका पूरा स्टेटमेंट सुना जाए, तो उन्होंने कहा कुछ और था जिसका मतलब गलत तरीके से दिखाया जा रहा है.

नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि 4 आतंकियों की हरकत से दोनों देशों के बीच बातचीत और करतारपुर कॉरिडोर को खोलने का जो प्रयास शुरू हुआ है, वो बंद नहीं किया जाना चाहिए. सिद्धू ने कहा कि जो लोग उनके खिलाफ बोल रहे हैं वो भी खुद पाकिस्तान में उनके साथ ही करतारपुर कॉरिडोर खुलने के कार्यक्रम के दौरान बैठे थ. नवजोत सिंह सिद्धू का इशारा केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल की तरफ था. उन्होंने कहा कि मैं तो पाकिस्तान से कई न्यौते आने के बाद ही पाकिस्तान गया था. लेकिन हमारे प्रधानमंत्री तो बिना किसी न्यौते के ही पाकिस्तान पहुंच गए थे.

ये भी पढ़ें- पुलवामा हमले पर बयान के बाद, 'द कपिल शर्मा शो' से हटाए गए नवजोत सिंह सिद्धू

जनरल बाजवा से गले लगने के सवाल पर नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि मैं उसे लेकर कई बार सफाई दे चुका हूं. सिद्धू ने कहा कि जवानों की सुरक्षा के लिए केंद्र सरकार को और भी ठोस कदम उठाने होंगे और आतंकवाद को जड़ से खत्म करने के लिए काम करना होगा. सिद्धू ने कहा कि उन्होंने हमेशा कहा है कि ये आतंकी हमला एक कायरतापूर्ण हमला था और इस हमले की साजिश रचने वालों को जड़ से खत्म किया जाना चाहिए.

ये भी पढ़ें- पुलवामा हमला: आखिर क्यों पाकिस्तान का न्योता ठुकराने पर जावेद अख़्तर-शबाना आज़मी पर बरसीं कंगना रनौत?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 16, 2019, 4:41 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर