नवजोत सिंह सिद्धू और CM अमरिंदर के बीच खत्म नहीं हो रही टकरार

सिद्धू के दोस्त और पंजाबी गायक हिम्मत सिंह ने गीत के माध्यम से कहा है कि नवजोत सिंह सिद्धू को सच बोलने की सजा मिली है, लेकिन उनके साथ पूरा पंजाब है. सिद्धू के खिलाफ साजिश करने वालों को जनता ही सबक सिखाएगी.


Updated: July 13, 2019, 5:47 PM IST
नवजोत सिंह सिद्धू और CM अमरिंदर के बीच खत्म नहीं हो रही टकरार
पंजाब सरकार के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू

Updated: July 13, 2019, 5:47 PM IST
पंजाब में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंद्धू के बीच टकरार जारी है. सिद्धू ने अभी तक बिजली मंत्रायल के कार्यभार को नहीं संभाला है. इसी बीच सिद्धू के दोस्त और पंजाबी गायक हिम्मत सिंह खुलकर उनके समर्थन में आ गए हैं. उन्होंने सिद्धू के समर्थन में एक गीत का वीडियो जारी किया है. इस गीत के माध्यम से हिम्मत सिंह ने कहा है कि नवजोत सिंह सिद्धू को सच बोलने की सजा मिली है, लेकिन उनके साथ पूरा पंजाब है. सिद्धू के खिलाफ साजिश करने वालों को जनता ही सबक सिखाएगी.

गौरतलब है कि नवजोत सिंह सिद्धू ने कैबिनेट में हुए बदलाव के एक महीने बाद भी ऊर्जा मंत्रालय का कामकाज नहीं संभाला. वहीं अब यह मामला विपक्षी दलों के लिए एक मुद्दा बनता जा रहा है. इसी को लेकर बीजेपी महासचिव तरुण चुघ ने पंजाब के राज्यपाल को पत्र लिखा था. उन्होंने कहा था कि राज्य में आज संवैधानिक संकट उत्पन्न हो गया है.



पंजाब में संवैधानिक संकट
चुघ ने अपने पत्र में लिखा, 'सिद्धू गायब हैं. उनके और मुख्यमंत्री के बीच झगड़े के कारण संवैधानिक संकट आ पड़ा है. मैं राज्यपाल से निवेदन करता हूं कि वे पंजाब के हित में फैसला लें. अगर मंत्री काम नहीं करना चाहते तो किसी अन्य को विभाग की जिम्मेदारी दे देनी चाहिए. वे सैलरी उठा रहे हैं लेकिन काम नहीं कर रहे. उनके खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए.'

उल्लेखनीय है कि पिछले महीने 6 जून को मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने सिद्धू से शहरी निकाय के साथ पर्यटन एवं सांस्कृतिक मामले विभाग वापस ले लिए थे और उन्हें ऊर्जा मंत्रालय का प्रभार सौंपा था. अमरिंदर ने इसके लिए सिद्धू के खराब प्रदर्शन को जिम्मेदार ठहराया था.

हार के लिए सिद्धू जिम्मेदार
पंजाब में कांग्रेस को लोकसभा चुनाव 2019 में जिन 5 लोकसभा सीटों पर हार मिली है उसे लेकर कैप्टन अमरिंदर सिंह ने नवजोत सिंह सिद्धू के शहरी निकाय मंत्रालय के खराब कामकाज को जिम्मेदार ठहराया था. वहीं सिद्धू का मानना है कि जिन लोकसभा सीटों पर कांग्रेस को हार मिली है, उसकी जिम्‍मेदारी सामूहिक है. सिद्धू ने कहा था कि हार के लिए पंजाब में पूरी पार्टी जिम्मेदार है. सिर्फ उन्हें ही जिम्मेदार नहीं ठहराया जाए.
Loading...

ये भी पढ़ें: 

पाक सरकार ने गोपाल चावला को प्रबंधक कमेटी से हटाया

करतारपुर कॉरिडोर: भारत-पाक के बीच इन मुद्दों पर होगी बातचीत

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...