लाइव टीवी

पंजाब कृषि यूनिवर्सिटी के VC ने मांगा टिड्डियों के हमले का हल तो पाकिस्तानी प्रोफेसर ने दिया ये जवाब

News18Hindi
Updated: February 4, 2020, 1:11 PM IST
पंजाब कृषि यूनिवर्सिटी के VC ने मांगा टिड्डियों के हमले का हल तो पाकिस्तानी प्रोफेसर ने दिया ये जवाब
PAU के वीसी ने फैसलाबाद स्थित यूनिवर्सिटी ऑफ एग्रीकल्चर के वाइस चांसलर को पत्र लिखा है (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पंजाब कृषि विश्वविद्यालय (PAU) के वाइस चांसलर डॉ. बलदेव सिंह ढिल्लों ने पाकिस्तान को पत्र लिखा है. पत्र में उन्होंने टिड्डी दल की ताजा स्थिति और इससे बचने के लिए सुझाव मांगे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 4, 2020, 1:11 PM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. सीमा पार पाकिस्तान से आ रहे टिड्डी (Grasshopper) दलों से पंजाब, राजस्थान और गुजरात समेत देश के कई राज्यों के किसान परेशान हैं. यह किसानों की फसलों को बर्बाद कर रहे हैं. अब इनके हमले से बचने के लिए पंजाब कृषि विश्वविद्यालय (PAU) के वाइस चांसलर डॉ. बलदेव सिंह ढिल्लों ने पाकिस्तान को पत्र लिखा है. पत्र में उन्होंने टिड्डी दल की ताजा स्थिति और इससे बचने के लिए सुझाव मांगे हैं.

वीसी डॉ. बलदेव सिंह ढिल्लों ने यह चिट्ठी पाकिस्तान के फैसलाबाद स्थित यूनिवर्सिटी ऑफ एग्रीकल्चर के वाइस चांसलर प्रो. डॉ. मोहम्मद अशरफ को लिखी है. पत्र में ढिल्लों ने टिड्डी दल के ताजा हालात और इनसे बचाव के लिए किए गए उपायों की जानकारी साझा करने की अपील की है.

इन राज्यों में टिड्डी का हमला
टिड्डी नियंत्रण संगठन की हालिया रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान की तरफ से टिड्डी दलों का आना लगातार जारी है. रिपोर्ट के मुताबिक, राजस्थान के जैसलमेर, बाड़मेर, बीकानेर, जोधपुर, पाली, जालौर, श्रीगंगानगर सहित गुजरात के कच्छ और भुज में टिड्डी दल सक्रिय है. राजस्थान के अलावा पाकिस्तान से लगती पंजाब की सीमा में टिड्डी दलों की सक्रियता देखी गई है.

पाकिस्तान ने दिया ये जवाब
पत्र के जवाब में अशरफ ने कहा कि पाकिस्तान में टिड्डी हमला अप्रत्याशित था और इसके नवंबर के मध्य तक कम होने की उम्मीद थी. उन्होंने पाकिस्तान में टिड्डियों के प्रजनन के लिए जलवायु परिवर्तन को जिम्मेदार ठहराया है. अशरफ ने अपने जवाब में कहा, "मैं आपके साथ भारत-पाक सीमा पर लंबे समय से मानसून के मौसम के अनुकूल जलवायु परिस्थितियों के लिए साझा करना चाहता हूं. स्थानीय सरकार के अधिकारियों के साथ विश्वविद्यालय प्रशासन लगातार निगरानी कर रहा है और नियंत्रण अभियान चला रहा है."

ये भी पढ़ें :-चंडीगढ़: VIP कल्चर पर रोक, गाड़ियों पर नहीं लगा सकेंगे सेना-पुलिस जैसे स्टीकर

ट्यूशन से लौट रहे छात्र को पिटबुल डॉग ने दबोचा, लोग बरसाते रहे लाठियां...

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ (पंजाब) से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 4, 2020, 12:22 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर