पंजाब: कोरोना मुक्त गांव अभियान के तहत 4 दिनों में 24.7 लाख घरों का सर्वेक्षण

राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों में कुल 182 गर्भवती महिलाओं को कोविड पॉजिटिव पाया गया है. (सांकेतिक तस्वीर)

Punjab Covid-19 Cases: गांवों में कोविड-19 (Covid-19) के लिए कुल 65,126 व्यक्तियों का टेस्ट किया गया है, जिनमें से 2036 व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए हैं.

  • Share this:
    चंडीगढ़. पंजाब में मिशन फतेह 2.0 (Mission Fateh 2.0) के पहले चार दिनों के दौरान आशा वर्करों ने 91.2 लाख आबादी को कवर करते हुए कुल 24.7 लाख घरों का सर्वेक्षण किया है. इस मिशन का उद्देश्य गांवों में रहने वाले हरेक व्यक्ति की जांच करना है. पंजाब के ग्रामीण इलाकों में मृत्यु दर (Mortality rate) शहरी इलाकों की अपेक्षा ज्यादा है. स्वास्थ्य विभाग (Health department) कोरोना के लक्षणों (Symptoms of corona) वाले सभी व्यक्तियों की कोविड जांच को सुनिश्चित करने के लिए यह मुहिम चला रहा है.

    गांवों में कोविड-19 (Covid-19) के लिए कुल 65,126 व्यक्तियों का टेस्ट किया गया है, जिनमें से 2036 व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए हैं. घरेलू एकांतवास (Domestic isolation) वाले सभी 1896 मरीजों को मिशन फतेह किटें (Mission Fateh kits) मुहैया करवाई गई हैं, जबकि 140 मरीजों को एल-2, एल-3 की सुविधा दी गई है.

    ये भी पढ़ें- Toolkit: दिल्‍ली पुलिस ने केस दर्ज कराने वाले 2 कांग्रेस नेताओं को भेजा नोटिस

    182 गर्भवती महिलाएं कोरोना पॉजिटिव
    स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू  (Family Welfare Minister Balbir Singh sidhu) ने बताया कि लोगों ने स्वास्थ्य विभाग में विश्वास जताया है और टेस्ट करवाने के लिए आगे आ रहे हैं. उन्होंने कहा कि राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों में कुल 182 गर्भवती महिलाओं को कोविड पॉजिटिव पाया गया है. इन गर्भवती महिलाओं (Pregnant women) की रोजाना निगरानी राज्य के मुख्य कार्यालय द्वारा की जा रही है.

    कोविड पॉजिटिव और आम लोगों को टेली-कंसल्टेंसी (Tele-consultancy) सेवाएं दी जा रही हैं. टेली-कंसलटेंसी के लिए और मेडिकल अधिकारी नियुक्त किए जा रहे हैं. कोविड पॉजिटिव गर्भवती महिलाओं के लिए आज एक विशेष हेल्पलाइन नंबर (0172-2744041) शुरू किया गया है, जो रोजाना सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक कार्यशील रहेगा.

    ये भी पढ़ें- कोरोना काल ने बढ़ाई यास तूफान के बाद की चुनौतियां, कैसे निपेटगा पश्चिम बंगाल?

    सिद्धू ने कहा कि राज्य सरकार अस्पतालों में ऑक्सीजन की उचित सप्लाई बनाने के लिए सभी जरूरी कदम उठा रही है. मांग को पूरा करने के लिए ऑक्सीजन कंसेंट्रेटर का प्रयोग भी किया जा रहा है. उन्होंने सभी को कोविड नियमों का पालन करने और किसी भी तरह के लक्षण दिखाई देने पर जल्द से जल्द टेस्ट करवाने की भी अपील की है.