रजिस्टर्ड निर्माण कामगारों को 3000 रुपए गुजारा भत्ता देगी पंजाब सरकार

मुख्‍यमंत्री अमरिंदर सिंह ने की घोषणा. (File pic)

मुख्‍यमंत्री अमरिंदर सिंह ने की घोषणा. (File pic)

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Captain Amarinder Singh) कहा है कि 3000 रुपए का गुजारा भत्ता 1500-1500 रुपए की दो किस्तों में अदा किया जाएगा.

  • Share this:

चंडीगढ़. कोविड 19 (Covid-19) की पाबंदियों के चलते निर्माण कामगारों (Construction workers) को हो रहे नुकसान को देखते हुए पंजाब सरकार (Punjab government) ने 3000 रुपए गुजारा भत्ता (Maintenance allowance) देने का ऐलान किया है. जो भी निर्माण कामगार निर्माण और अन्य निर्माण कामगार  कल्याण बोर्ड (बीओसीडब्ल्यू) से रजिस्टर्ड होंगे. उन्हें यह भत्ता नगद सहायता के रूप में दिया जाएगा. मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Captain Amarinder Singh) कहा है कि 3000 रुपए का गुजारा भत्ता 1500-1500 रुपए की दो किस्तों में अदा किया जाएगा. पहली किस्‍त तुरंत जारी की जाएगी, जबकि दूसरी किस्‍त 15 जून तक अदा की जाएगी.

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने महामारी की पहली लहर के दौरान बीते साल भी संकट में डूबे निर्माण कामगारों के लिए इसी तरह की सहायता दी थी. उस दौरान बोर्ड के साथ रजिस्टर्ड 2.92 लाख निर्माण कामगारों को 6000 रुपए के हिसाब से 174.31 करोड़ रुपए की वित्तीय सहायता (Financial assistance) प्रदान की गई थी.

बोर्ड के साथ राज्य भर में लगभग तीन लाख रजिस्टर्ड निर्माण कामगार हैं. कोविड मामलों में हाल ही में हुई वृद्धि से पैदा हुई मौजूदा स्थिति पर काबू पाने के लिए उठाए गए सख्त कदमों और समय-समय जारी किए गए दिशा-निर्देशों के मद्देनजर इन निर्माण कामगारों की रोजा-रोटी पर बुरा असर पड़ा था.

बहुत से स्थान पर चल रहे निर्माण प्रोजेक्टों का काम या तो रुक गया है या फिर अस्थायी तौर पर काम की रफ्तार धीमी हो गई है. जिससे ऐसे कामगारों की आमदनी और रोजी-रोटी पर बुरा असर पड़ा है. मुख्यमंत्री ने कहा कि वित्तीय सहायता देने का उद्देश्य इस कठिन समय में निर्माण कामगारों को तत्काल राहत मुहैया करवाना है.


उधर पंजाब पुलिस (Punjab Police) ने गरीब और बेसहारा कोविड मरीजों के लिए भोजन लेने के लिए हेल्पलाइन नंबर 181 और 112 जारी किया है. पंजाब पुलिस विभाग के द्वारा मरीजों को उनके घरों तक तैयार भोजन मुफ्त मुहैया करवाया जाएगा.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज