होम /न्यूज /पंजाब /Punjab Assembly Session: मुख्‍यमंत्री भगवंत मान ने पेश किया विश्‍वास मत, कांग्रेस विधायक सदन से किए गए बाहर

Punjab Assembly Session: मुख्‍यमंत्री भगवंत मान ने पेश किया विश्‍वास मत, कांग्रेस विधायक सदन से किए गए बाहर

पंजाब के मुख्‍यमंत्री भगवंत मान ने मंगलवार को विधानसभा में विश्‍वास मत प्रस्‍ताव पेश किया. (न्‍यूज 18 हिन्‍दी)

पंजाब के मुख्‍यमंत्री भगवंत मान ने मंगलवार को विधानसभा में विश्‍वास मत प्रस्‍ताव पेश किया. (न्‍यूज 18 हिन्‍दी)

Punjab Assembly Special Session 2022: पंजाब विधानसभा का विशेष सत्र मंगलवार को शुरू हो गया. सत्र के पहले ही दिन विपक्षी ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

हाइलाइट्स

पंजाब विधानसभा का विशेष सत्र शुरू, पहले दिन जोरदार हंगामा
मुख्‍यमंत्री भगवंत मान ने सदन में पेश किया विश्‍वास मत प्रस्‍ताव
पंजाब विधानसभा का विशेष सत्र 29 सितंबर तक के लिए स्‍थगित

एस. सिंह

चंडीगढ़. कांग्रेस के हंगामे और स्पीकर द्वारा विपक्षी पार्टी के विधायकों को सदन से बाहर निकालने के बाद पंजाब विधानसभा में मंगलवार को मुख्यमंत्री भगवंत मान ने विश्वासमत पेश किया. प्रस्ताव पेश करते हुए उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी (AAP) को जनता ने चुनाव में विश्वास मत दिया है, इसलिए हम इसे कानूनी तौर पर विधानसभा में पारित कराना चाहते हैं. इसमें कांग्रेस को आपत्ति नहीं होनी चाहिए. उन्होंने कहा कि पंजाब में भाजपा के ऑपरेशन लोटस का कांग्रेस समर्थन कर रही है. सीएम मान ने आरोप लगाया कि कांग्रेस भाजपा के साथ मिली हुई है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस के अपने विधायक कई राज्यों में बिक रहे हैं. सीएम भगवंत मान ने आगे कहा कि कांग्रेस नेता प्रताप बाजवा इस उम्र में संगठन से एक बड़ी कुर्सी चाहते हैं, लेकिन उन्हें पता होने चाहिए कि बड़ी कुर्सी जनता के विश्वास से मिलती है. सदन की कार्यवाही को 29 सितंंबर 2022 तक के लिए स्‍थगित कर दिया गया है.

मुख्‍यमंत्री भगवंत मान ने भाजपा पर आरोप लगाया कि भाजपा कई राज्‍यों में बनी हुई सरकारों को गिराकर अपनी सरकारें बना रही है. उन्होंने कहा कि भाजपा वक्त के साथ खेल रही है. मान ने कहा कि उन्हें नहीं पता कि वक्त किसी के साथ नहीं चलता है. सीएम ने आरोप लगाया कि भाजपा उनके विधायकों को फोन कर उनकी कीमत पूछ रही है, जबकि वह अपनी जगह पर मजबूती से खड़े हैं.

पंजाब विधानसभा का विशेष सत्र आज, इन मुद्दों पर होगी चर्चा; हंगामा होने के आसार

AAP पर बरसी कांग्रेस
विधानसभा के विशेष सत्र के दौरान के कांग्रेस के विधायकों को सदन से बाहर निकालने के बाद विपक्ष के नेता प्रताप सिंह बाजवा ने कहा कि आम आदमी पार्टी सरकार का सदन में विश्वास मत प्रस्ताव लाना अवैध है. उन्होंने कहा कि राज्यपाल ने पहले ही संविधान का उल्लेख करते हुए विश्वास मत लाने को अवैध ठहराया था, जिसके बाद दूसरी बार उन्होंने विधानसभा सत्र की तारीख तय की और सदन में बिजली और पराली के मसले की चर्चा का हवाला दिया.

विश्‍वास मत पर सवाल
कांग्रेस नेता बाजवा ने आरोप लगाया कि विश्वास मत लाकर आम आदमी पार्टी इसका फायदा गुजरात और हिमाचल में उठाना चाहती है. उन्होंने कहा कि जब आप के विधायकों की खरीद-फरोख्त वाला भाजपा का कथित लोटस ऑपरेशन फेल हो चुका है तो विश्वास मत लाने का कोई औचित्य ही नहीं रह गया. उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी का ऑपरेशन लोटस एक झूठ का पुलिंदा है. विपक्ष के नेता ने कहा कि आप विधायकों ने इस मामले में एफआईआर भी दर्ज कराई है, जबकि जांच में कुछ भी सामने नहीं आया है.

Tags: Bhagwant Mann, Punjab Assembly Session

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें