होम /न्यूज /पंजाब /पंजाब पुलिस के AIG गिरफ्तार, रेप और जबरन वसूली के साथ भ्रष्‍टाचार का भी आरोप

पंजाब पुलिस के AIG गिरफ्तार, रेप और जबरन वसूली के साथ भ्रष्‍टाचार का भी आरोप

पंजाब पुलिस के AIG आशीष कपूर को गिरफ्तार कर लिया गया है. (सांकेतिक तस्‍वीर)

पंजाब पुलिस के AIG आशीष कपूर को गिरफ्तार कर लिया गया है. (सांकेतिक तस्‍वीर)

Punjab News: पंजाब विजिलेंस की टीम ने बड़ी कार्रवाई करते हुए प्रदेश पुलिस के एआईजी आशीष कपूर को गिफ्तार कर लिया है. आशी ...अधिक पढ़ें

चंडीगढ़. पंजाब के मोहाली से बड़ी खबर सामने आ रही है. पंजाब पुलिस के AIG आशीष कपूरी को गिरफ्तार कर लिया है. पंजाब विजिलेंस की टीम ने यह कार्रवाई की है. आशीष कपूर पर भ्रष्‍टाचार का आरोप है. साथ ही एक महिला ने उनपर रेप और वसूली जैसे गंभीर आरोप भी लगाए हैं. विजिलेंस की टीम आशीष कपूर के मोहाली सेक्‍टर-88 स्थित निवास पर छापा मारकर काफी देर तक छानबीन करती रही. इसके बाद उन्‍हें गिरफ्तार कर लिया गया. विजिलेंस की इस कार्रवाई से पुलिस महकमे में खलबली मच गई.

जानकारी के अनुसार, आशीष कपूर वर्ष 2016 में सेंट्रल जेल (अमृतसर) में बतौर जेल अधीक्षक तैनात थे. इसी दौरान जेल में बंद हरियाणा के कुरुक्षेत्र निवासी पूनम राजन से उनका संपर्क हुआ. पूनम किसी केस के सिलसिले में जेल में बंद थीं. पूनम के साथ ही उनकी मां प्रेमलता, उनका भाई कुलदीप सिंह और भाभी प्रीति भी न्‍यायिक हिरासत में जेल में थे. इन सबके खिलाफ जीरकपुर थाने में मामला दर्ज था. आरोप है कि आशीष कपूर पूनम राजन की मां प्रेमलता को लगातार इस बात के लिए राजी करने में जुटे थे कि वह कोर्ट से जमानत कराने में उनकी मदद करेंगे. बताया जाता है कि आशीष कपूर ने जीरकपुर थाना के तत्‍कालीन थानाध्‍यक्ष पवन कुमार और एएसआई हरजिंदर सिंह के साथ साठगांठ कर प्रीति को निर्दोष घोषित कराने में सफल रहे.

आरोप है कि आशीष कपूर ने इस दौरान प्रेमलता से विभिन्‍न चेक पर हस्‍ताक्षर करवा लिया, जिसका कुल मूल्‍य 1 करोड़ रुपये था. इस रकम को आशीष कपूर ने अपने किसी परिचित के खाते में जमा करवाया और एएसआई हरजिंदर सिंह की मदद से उसे कैश भी करा लिया. इस तरह आशीष कपूर, हरजिंदर सिंह और पवन कुमार के खिलाफ भ्रष्‍टाचार निवारक कानून समेत आईपीसी की अन्‍य धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया गया. अब विजिलेंस की टीम ने उनके खिलाफ कार्रवाई करते हुए उन्‍हें गिरफ्तार कर लिया.

Tags: Punjab news, Vigilance Raid

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें