बॉर्डर पर धोखा कर सकते हैं चीन-पाकिस्तान, पंजाब के CM बोले- सतर्क रहे भारत
Chandigarh-Punjab News in Hindi

बॉर्डर पर धोखा कर सकते हैं चीन-पाकिस्तान, पंजाब के CM बोले- सतर्क रहे भारत
कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सीमा पर पाकिस्तान और चीन के खतरे से सावधान रहने के लिए कहा (फाइल फोटो)

सीएम अमरिंदर सिंह (CM Amarinder Singh) ने लद्दाख में भारतीय सैनिकों पर हुए हालिया हमले को याद करते हुए कहा कि पाकिस्तान (Pakistan) सीमा पर रोजाना गोलीबारी कर रहा है, जबकि दूसरी ओर चीन (China) दोस्ती की बात करता है, लेकिन देश के लिए खतरा बना हुआ है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 15, 2020, 5:27 PM IST
  • Share this:
मोहाली. पंजाब (Punjab) के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह (CM Amarinder Singh) ने शनिवार को चीन और पाकिस्तान (Pakistan) की ओर से सीमा पर उत्पन्न किसी भी खतरे से निपटने के लिए तैयार रहने का आह्वान किया. स्वतंत्रता दिवस के मौके पर एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सीएम अमरिंदर सिंह ने कहा कि सीमा पर जारी तनाव के मद्देनजर भारत को किसी भी परिस्थिति के लिए तैयार रहना चाहिए. पड़ोसी देशों से लगातार उत्पन्न खतरों के प्रति आगाह करते हुए अमरिंदर ने कहा कि सीमा पर दुश्मनों का मुकाबला करने के लिए पंजाब हमेशा आगे रहेगा. मुख्यमंत्री ने लद्दाख (Ladakh) में भारतीय सैनिकों पर हुए हालिया हमले को याद करते हुए कहा कि पाकिस्तान सीमा पर रोजाना गोलीबारी कर रहा है, जबकि दूसरी ओर चीन (China) दोस्ती की बात करता है, लेकिन देश के लिए खतरा बना हुआ है.

अमरिंदर सिंह (Amarinder Singh)  ने कहा कि भारत ने पाकिस्तान को हमेशा मुंहतोड़ जवाब दिया है और उससे निपटने का यही तरीका है. अमरिंदर सिंह ने साथ ही कहा कि चीन के साथ भी इसी तरह कड़ाई से निपटने की जरूरत है. इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने स्वतंत्रता संग्राम में लाखों भारतीयों के योगदान को याद करते हुए कहा कि किसी भी लड़ाई में पंजाबी हमेशा सबसे आगे रहते हैं. आधिकारिक विज्ञप्ति के मुताबिक उन्होंने कहा कि अंडमान निकोबार द्वीपसमूह स्थित सेलुलर जेल को काला पानी कहा जाता है जहां पर कैद सैकड़ों पंजाबी अमर हो गए.

देश के जवानों को सलाम



मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना वायरस की महामारी की वजह से इस साल स्वतंत्रता दिवस को बड़े पैमाने पर नहीं मनाया जा रहा, लेकिन यह समय उन सभी लोगों की कुर्बानियों को याद करने का है जिससे हमारी स्वतंत्रता संभव हुई. उन्होंने कहा कि साथ ही यह समय अपने सुरक्षा बलों को सलाम करने का है जो देश की सीमाओं की सुरक्षा दुश्मन से कर रहे हैं. पंजाब के स्वतंत्रता सेनानियों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए अमरिंदर सिंह ने दोहराया कि उनकी सरकार स्वतंत्रता सेनानियों की अगली पीढ़ियों (पोते-पोतियों) को भी सभी लाभ देने को लेकर प्रतिबद्ध है.
कोरोना योद्धाओं को 26 जनवरी को किया जाएगा सम्मानित

मुख्यमंत्री ने कोरोना वायरस की माहामारी के खिलाफ लड़ रहे गैर सरकारी संगठनों और धार्मिक संगठनों के साथ स्वास्थ्य कर्मियों को भी सलाम किया. अमरिंदर सिंह ने कोरोना वायरस की महामारी के दौरान उल्लेखनीय सेवा देने वालों का विशेष तौर पर उल्लेख करते हुए कहा कि उनकी सरकार अगले साल 26 जनवरी को उन्हें सम्मानित करेगी. उन्होंने लॉकडाउन की अवधि के दौरान देशवासियों का पेट भरने के लिए किसानों के योगदान को स्वीकार किया. मुख्यमंत्री ने उन उद्योगपतियों की भी प्रशंसा की जिन्होंने महामारी की वजह से आई मंदी से निकलने में उल्लेखनीय लचीलेपन का प्रदर्शन किया और औद्योगिक श्रमिक उसी प्रतिबद्धता से लौटे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading