Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    पंजाब की जनता का कल्याण सुनिश्चित करने तक राजनीति नहीं छोड़ूंगा: अमरिंदर सिंह

    पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह. (फाइल फोटो)
    पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह. (फाइल फोटो)

    पंजाब (Punjab) के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह (Amarinder Singh) ने बृहस्पतिवार को कहा कि जब तक वह राज्य के प्रत्येक निवासी का कल्याण सुनिश्चित नहीं कर देते, तब तक राजनीति नहीं छोड़ेंगे.

    • Share this:
    चंडीगढ़. पंजाब (Punjab) के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह (Amarinder Singh) ने बृहस्पतिवार को कहा कि जब तक वह राज्य के प्रत्येक निवासी का कल्याण सुनिश्चित नहीं कर देते, तब तक राजनीति नहीं छोड़ेंगे. सिंह ने यहां पंजाब युवा कांग्रेस (पीवाईसी) के नव-निर्वाचित पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि वह राज्य को विकास की ओर ले जाना जारी रखेंगे. इससे पहले सिंह ने घोषणा की थी कि 2017 का विधानसभा चुनाव उनका आखिरी चुनाव होगा. हालांकि उन्होंने 2018 में कहा था कि जब तक वह राज्य को 'बदहाली' से बाहर नहीं निकाल लेते, तब तक राजनीति नहीं छोड़ेंगे.

    सियासत में लंबी पारी खेल चुके हैं अमरिंदर
    सियासत में लंबी पारी खेलने वाले कांग्रेस नेता कैप्टन अमरिंदर सिंह पटियाला राजघराने से आते है. फिलहाल पटियाला से विधायक भी हैं. इससे पहले वे पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष भी रह चुके हैं. इससे पहले साल उन्होंने प्रदेश के सीएम के तौर पर साल 2002 से 2007 तक काम किया है. उनके पिता पटियाला के अंतिम महाराजा थे.

    नवजोत सिंह सिद्धू से मिल रही टक्कर
    साल 1980 में पहला लोकसभा चुनाव जीतने वाले सिंह की पंजाब में बीजेपी से कांग्रेस में शामिल हुए नवजोत सिंह सिद्धू से लगातार राजनीतिक टक्कर मिलती रही है. अमरिंदर मंत्रिमंडल में शामिल रहे सिद्धू ने 6 महीने पहले मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है. इस्तीफे के बाद सिद्धू ने चुप्पी साध रखी है.



    कांग्रेस आलाकमान कर रहा खटास को दूर करने का प्रयास
    सिद्धू के इस्तीफे के बाद लगातार कयास लगाए जा रहे हैं केंद्रीय नेतृत्व सिद्धू की चुप्पी को तोड़ना चाहता है. लेकिन सीएम अमरिंदर से सीधी टक्कर नहीं ले पा रहा है. वैसे कयास यह भी लगाए जा रहे हैं कि कांग्रेस आलाकमान लगातार दोनों की रिश्तों में आई खटास को दूर करने का प्रयास कर रहा है. आपको बता दें कि नवजोत सिंह सिद्धू ने कई बार कैप्टन अमरिंदर पर टिप्पणियां भी की थी. उन्होंने अपना कैप्टन राहुल गांधी को बताया था. लोकसभा चुनाव के दौरान भी उनके रिश्तों में खटास आती दिख रही थी. लोकसभा चुनाव के बाद सिद्धू का मंत्रालय बदलने से वो नाराज थे. जिसके बाद उन्होंने अमरिंदर कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया था. सिद्धू को पंजाब का डिप्टी सीएम बनाए जाने की भी चर्चा है.

    ये भी पढ़ें: 

    कांग्रेस की विरोधी पार्टियों ने नवजोत सिंह सिद्धू को बताया भविष्य का नेता

    सुर्खियों के मैदान में फिर छाये नवजोत सिंह सिद्धू, डिप्टी सीएम बनाये जाने की चर्चा

     
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज