• Home
  • »
  • News
  • »
  • punjab
  • »
  • Punjab Congress: सिद्धू खेमे ने हरीश रावत के खिलाफ खोला मोर्चा, पूछा- कैप्टन के नेतृत्व में चुनाव का फैसला कब हुआ?

Punjab Congress: सिद्धू खेमे ने हरीश रावत के खिलाफ खोला मोर्चा, पूछा- कैप्टन के नेतृत्व में चुनाव का फैसला कब हुआ?

परगट सिंह ने हरीश रावत से सवाल किया है कि उन्हें यह भी बताना चाहिए कि यह फैसला कब हुआ? (फाइल फोटो)

परगट सिंह ने हरीश रावत से सवाल किया है कि उन्हें यह भी बताना चाहिए कि यह फैसला कब हुआ? (फाइल फोटो)

Punjab Congress: परगट सिंह ने कहा कि हरीश रावत उनके अच्छे दोस्त हैं, लेकिन पंजाब के बारे में अपने स्तर पर इतना बड़ा फैसला लेने का अधिकार उन्हें किसने दिया?

  • Share this:

    चंडीगढ़. पंजाब कांग्रेस (Punjab Pradesh Congress) में मचा घमासान अब नए मोड़ पर आ गया है. नवजोत सिंह सिद्धू खेमे (Navjot Singh Sidhu) ने अब पंजाब कांग्रेस के प्रभारी हरीश रावत (Punjab Congress in-charge Harish Rawat) के खिलाफ ही मोर्चा खोल दिया है. सिद्धू के करीबी विधायक परगट सिंह (MLA Pargat Singh) ने कहा कि खड़गे कमेटी (Kharge committee) ने कहा था कि पंजाब के चुनाव सोनिया गांधी और राहुल गांधी (Sonia Gandhi and Rahul Gandhi) के नेतृत्व में होंगे, जबकि हरीश रावत कह रहे हैं कि 2022 के चुनाव मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Chief Minister Captain Amarinder Singh) के नेतृत्व में होंगे. परगट सिंह ने हरीश रावत से सवाल किया है कि उन्हें यह भी बताना चाहिए कि यह फैसला कब हुआ?

    परगट सिंह ने News18 को बताया कि तीन महीने पहले सभी विधायक कांग्रेस हाईकमान की तीन सदस्यों की खड़गे कमेटी के सामने पेश हुए थे और पंजाब की सियायत के बारे उन्हें अवगत कराया था. उस वक्त उन्होंने बताया था कि आगामी विधानसभा चुनाव सोनिया और राहुल गांधी की अगुवाई में लड़े जाएंगे. परगट सिंह ने कहा कि हरीश रावत उनके अच्छे दोस्त हैं, लेकिन पंजाब के बारे में अपने स्तर पर इतना बड़ा फैसला लेने का अधिकार उन्हें किसने दिया? खड़गे कमेटी के सोनिया और राहुल की अगुवाई में चुनाव लड़ने के फैसले के बाद अब कैप्टन की अगुवाई का क्या मतलब रह जाता है?

    परगट सिंह के इस बयान ने पंजाब की सियासत में हलचल पैदा कर दी है. उन्होंने कहा कि सिद्धू का ईंट से ईंट बजाने वाले बयान का भी सीधे तौर पर संबंध पंजाब कांग्रेस प्रभारी हरीश रावत से ही था. हरीश रावत अब पंजाब दौरे पर आने वाले हैं, लेकिन उनके आने से पहले ही कांग्रेस के महासचिव परगट सिंह ने उनके लिए एक नई समस्या खड़ी कर दी है, जिससे पंजाब कांग्रेस में विवाद थमता नजर नहीं आ रहा है.

    पढ़ेंः KBC में जाने वाले रेलकर्मी को थमाई गई चार्जशीट, 3 साल का इंक्रीमेंट भी रोका

    इसके अलावा सिद्धू ने विधानसभा सत्र को लंबी अवधि के लिए बुलाए जाने की मांग करते हुए फिर से कैप्टन अमरिंदर सिंह को घेरने की कोशिश की है. 3 सितंबर को एक दिवसीय सत्र बुलाने को लेकर सरकार पहले ही विपक्ष के निशाने पर है, अब सिद्धू की मांग ने विपक्ष के आरोपों में भी जान डाल दी है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज