• Home
  • »
  • News
  • »
  • punjab
  • »
  • Punjab Cabinet Expansion: सीएम चन्नी का कैबिनेट विस्तार आज, दोआबा का दिख सकता है दबदबा

Punjab Cabinet Expansion: सीएम चन्नी का कैबिनेट विस्तार आज, दोआबा का दिख सकता है दबदबा

कहा जा रहा है कि पंजाब के दोआबा क्षेत्र के 3 विधायकों को पहली बार कैबिनेट में शामिल किया जाएगा.  (फोटो-@CHARANJITCHANNI)

कहा जा रहा है कि पंजाब के दोआबा क्षेत्र के 3 विधायकों को पहली बार कैबिनेट में शामिल किया जाएगा. (फोटो-@CHARANJITCHANNI)

Punjab Cabinet Expansion: अमरिंदर सिंह के मंत्रिमंडल में दोआबा का बहुत कम प्रतिनिधित्व था. 16 मंत्रियों में से 10 मालवा क्षेत्र से थे, पांच माझा क्षेत्र से और एक दोआबा से था. यहां तक ​​कि पीपीसीसी प्रमुख नवजोत सिद्धू भी माझा से मंत्री थे, जिन्होंने बाद में इस्तीफा दे दिया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    चंडीगढ़. पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी (Punjab Chief Minister Charanjit Singh Channi) ने अपनी नई टीम तैयार कर ली है. आज शाम साढ़े चार बजे नए मंत्री शपथ लेंगे. माना जा रहा है कि चन्नी की कैबिनेट में सात नए चेहरों को शामिल किया जाएगा, जबकि पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह की सरकार में शामिल रहे पांच मंत्रियों को बाहर का रास्ता दिखाए जाने की संभावना है. कहा जा रहा है कि पंजाब के दोआबा क्षेत्र के 3 विधायकों को पहली बार कैबिनेट में शामिल किया जाएगा. कैप्टन सरकार में कुछ महीने तक मंत्री रहने वाले राणा गुरजीत सिंह अब चन्नी सरकार में दोबारा कैबिनेट मंत्री बन सकते हैं.

    बता दें कि दोआबा पंजाब का एक ऐसा क्षेत्र है जहां से काफी कम संख्या में विधायकों को मंत्री बनने का मौका मिला है, लेकिन अब चरणजीत सिंह चन्नी के सीएम बनने के बाद यहां की तस्वीर बदलने वाली ही. पंजाब विधानसभा में दोआबा के 23 विधानसभा क्षेत्र हैं. यहां से फिलहाल कांग्रेस के 18 विधायक हैं. लेकिन इसमें केवल एक कैबिनेट मंत्री थे- होशियारपुर जिले के सुंदर शाम अरोड़ा.

    अमरिंदर राज में दोआबा नजरअंदाज
    अमरिंदर सिंह के मंत्रिमंडल में दोआबा का बहुत कम प्रतिनिधित्व था. 16 मंत्रियों में से 10 मालवा क्षेत्र से थे, पांच माझा क्षेत्र से और एक दोआबा से था. यहां तक ​​कि पीपीसीसी प्रमुख नवजोत सिद्धू भी माझा से मंत्री थे, जिन्होंने बाद में इस्तीफा दे दिया था.

    दोआबा में कब किसको मिला मौक
    2017 में जब कांग्रेस सत्ता में आई तो दो मंत्रियों को दोआबा से चुना गया, जिसमें अरोड़ा और कपूरथला विधानसभा क्षेत्र से तीन बार के विधायक राणा गुरजीत सिंह शामिल थे. 2017 में, विधानसभा में दोआबा के 15 विधायक थे और फिर कांग्रेस ने 2018 और 2019 में यहां से दो और विधानसभा सीटें जीतीं. जालंधर, कपूरथला, होशियारपुर और नवांशहर सहित चार जिलों वाले दोआबा से विधानसभा में कांग्रेस के विधायकों की संख्या 18 हो गई है.

    ये भी पढ़ें:- अमेरिका की ‘ऐतिहासिक यात्रा’ के बाद स्वदेश के लिए रवाना हुए पीएम मोदी, जानें अब तक क्या-क्या हुआ

    अलग-अल क्षेत्रों का हाल
    जालंधर से कांग्रेस के नौ सीटों में से छह विधायक हैं. कपूरथला में कांग्रेस के चारों विधायक. नवांशहर में तीन सीटों में से दो कांग्रेस विधायक हैं, और होशियारपुर में इसके सात क्षेत्रों में से छह कांग्रेस विधायक हैं.

    इन मंत्रियों को मिल सकता है मौका
    दिल्ली में कांग्रेस नेता राहुल गांधी और पार्टी के अन्य वरिष्ठ सदस्यों के साथ बैठक के बाद चन्नी नीत मंत्रिमंडल के नामों पर सहमति बनी. मंत्रिमंडल विस्तार पर चर्चा करने के लिए चन्नी को कांग्रेस आलाकमान ने शुक्रवार को दिल्ली तलब किया था. जालंधर कैंट के विधायक परगट सिंह प्रदेश कांग्रेस महासचिव हैं और उन्हें प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू का करीबी समझा जाता है.अमृतसर पश्चिम के विधायक राजकुमार वेरका अनुसूचित जाति से आते हैं जबकि गुरकिरत सिंह कोटली खन्ना से विधायक हैं एवं पूर्व मुख्यमंत्री बेअंत सिंह के पोते हैं. (एजेंसी इनपुट के साथ)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज