Home /News /punjab /

punjab elections son defeated cm channi mother refused to leave the job of sweeper

Punjab Elections: बेटे ने CM चन्नी को हराया, लेकिन मां ने किया सफाईकर्मी की नौकरी छोड़ने से इनकार

चरणजीत चन्नी को हराने वाले आप विधायक लाभ सिंह की मां बलदेव कौर (ANI)

चरणजीत चन्नी को हराने वाले आप विधायक लाभ सिंह की मां बलदेव कौर (ANI)

Punjab Elections: पंजाब के विधानसभा चुनाव में सीएम चरणजीत सिंह चन्नी को AAP के उम्मीदवार लाभ सिंह ने भले ही हरा दिया, लेकिन उनकी मां बलदेव कौर ने एक सरकारी स्कूल में अपनी संविदा सफाई कर्मचारी की नौकरी को छोड़ने से साफ इनकार कर दिया है.

अधिक पढ़ें ...

चंडीगढ़. बलदेव कौर के बेटे लाभ सिंह उगोके ने भले ही पंजाब के निवर्तमान मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी को भदौर से हराकर शोहरत हासिल की है, लेकिन बलदेव कौर एक सरकारी स्कूल में अपनी संविदा सफाई कर्मचारी की नौकरी छोड़ने के लिए तैयार नहीं हैं. वास्तव में बलदेव कौर ने उस समय अपने गांव के सभी लोगों को आश्चर्यचकित कर दिया जब वे शुक्रवार को झाड़ू लेकर अपनी ड्यूटी पर पहुंच गईं. इससे केवल एक दिन पहले ही लाभ सिंह ने कांग्रेस के उम्मीदवार सीएम चन्नी को 37,558 के बड़े अंतर से हराया और वे आम आदमी पार्टी (आप) के जाइंट किलर (Giant killer) के रूप में उभरे थे.

गांव के बीच में उनका दो कमरों का मकान है. बलदेव कौर ने कहा कि ‘सभी लोगों ने सोचा कि मैं अपने बेटे की जीत के कम से कम एक दिन बाद ही तो काम पर नहीं आऊंगी. लेकिन मैंने साफ कर दिया कि मेरा बेटा विधायक बना है, मैं नहीं. मैं अभी भी एक संविदा सफाई कर्मचारी हूं.’ बलदेव कौर ने सवाल किया कि ‘मुझे अपनी नौकरी क्यों छोड़ देनी चाहिए?’ पिछले 22 वर्षों से बरनाला जिले के अपने गांव उगोके में स्कूल में काम कर रही बलदेव अपनी नौकरी को नियमित नहीं करने के लिए सरकार से नाराज हैं. उन्होंने कहा कि मेरी नौकरी को नियमित करने के लिए अर्जी बार-बार भेजी गई, लेकिन उसे हर बार खारिज कर दिया गया.

पचास साल से अधिक उम्र की बलदेव कौर ने कहा कि उन्होंने अपने विधायक बेटे से साफ कह दिया है कि वे अपनी नौकरी नहीं छोड़ेंगी. उन्होंने कहा कि ‘मैं जो कर रहा हूं उस पर मुझे गर्व है. जब हमारा परिवार अपना गुजारा करने के लिए संघर्ष कर रहा था, उस दौरान मेरी नौकरी आय का एक बड़ा सहारा रही है.’ लाभ सिंह के परिवार का दो कमरों का घर इस बात का प्रमाण है, जिसके आधार पर AAP, सीएम चरणजीत सिंह चन्नी के खिलाफ ‘असली बनाम नकली गरीब’ को एक चुनावी मुद्दा बनाने में सफल रही. बलदेव कौर के पति दर्शन सिंह जीवन भर मजदूर करते रहे, लेकिन हाल ही में एक आंख की सर्जरी के बाद उन्होंने काम करना बंद कर दिया.

बलदेव कौर ने कहा कि ‘हमने अपना सारा जीवन गरीबी में जिया है और सबसे बुरे दिनों को देखा है. मैंने लाभ से कहा है कि यह मत भूलना कि हम कहां के आए हैं. उन्हें दलितों के लिए लड़ना चाहिए.’ लाभ सिंह के पिता उनकी जीत से खुश हैं, लेकिन भविष्य की चुनौतियों को लेकर आशंकित भी हैं. उन्होंने कहा कि ‘सिस्टम को बदलना इतना आसान नहीं है. पंजाबवासियों को आप सरकार से काफी उम्मीदें हैं.’ जबकि विधायक चुने गए लाभ सिंह गांव में मोबाइल फोन की मरम्मत की दुकान चलाते रहे हैं.

Tags: AAP, AAP MLA, Chief Minister Charanjit Singh Channi, Punjab elections, Punjab Elections 2022

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर