प्रकाश पर्व के आयोजन को लेकर राजनीति कर रही है पंजाब सरकार: हरसिमरत कौर

कौर की इस प्रतिक्रिया से एक दिन पहले मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने एसजीपीसी के आरोपों से इनकार किया कि राज्य सरकार गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश वर्ष के आयोजन में बढ़-चढ़ कर हिस्सा नहीं लेना चाहती है.

भाषा
Updated: September 9, 2019, 10:58 PM IST
प्रकाश पर्व के आयोजन को लेकर राजनीति कर रही है पंजाब सरकार: हरसिमरत कौर
केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल
भाषा
Updated: September 9, 2019, 10:58 PM IST
चंडीगढ़. केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल (Harsimrat Kaur Badal) ने सोमवार को पंजाब सरकार (Punjab Government) पर आरोप लगाया कि वह नवंबर में गुरु नानक देव (Guru Nanak Dev) के 550वें प्रकाश पर्व के आयोजन को लेकर राजनीति कर रही है और सिखों की सर्वोच्च धार्मिक संस्था अकाल तख्त (Akal Takht) को ‘कमजोर’ करने का प्रयास कर रही है.

भटिंडा से सांसद कौर ने यह भी आरोप लगाया कि राज्य सरकार ने कपूरथला के सुल्तानपुर लोधी में कोई विकास कार्य नहीं कराया है जबकि वहां 550वें प्रकाश वर्ष का आयोजन होना है.

गौरतलब है कि कौर की इस प्रतिक्रिया से एक दिन पहले मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने शिरोमणि गुरद्वारा प्रबंधक समिति (एसजीपीसी) के आरोपों से इनकार किया कि राज्य सरकार गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश वर्ष के आयोजन में बढ़-चढ़ कर हिस्सा नहीं लेना चाहती है. मुख्यमंत्री ने हालांकि कहा कि इस ऐतिहासिक कार्यक्रम के आयोजन के लिए एसजीपीसी के साथ समन्वय हेतु एक मंत्रिसमूह का गठन किया गया है.

कौर का कहना है कि केंद्र और राज्य में किसी की भी सरकार हो, धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन हमेशा एसजीपीसी के तहत ही होता है. एसजीपीसी सिखों की एक निर्वाचित संस्था है.अकाल तख्त के जत्थेदारों ने राज्य सरकार सहित सभी लोगों से अपील की है कि वे साथ मिलकर गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व का आयोजन करें.

उन्होंने कहा कि यहां तक कि बिहार में नीतीश कुमार सरकार ने भी 2017 में गुरु गोविंद सिंह जी के 350वें प्रकाश वर्ष का आयोजन एसजीपीसी के तहत किया था और उसे सरकारी कार्यक्रम नहीं बनाया था. हमेशा सभी धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन एसजीपीसी के तहत होता है और हमेशा से सभी पार्टी की सरकारों ने माना है कि सिख पंथ किसी एक का नहीं है.

उन्होंने कहा, लेकिन यह देखकर दुख हो रहा है कि राज्य सरकार राजनीति करके अकाल तख्त साहिब को कमजोर करना चाहती है. आप सभी ने देखा है कि अकाल तख्त के निर्देश पर उनके जत्थेदार, अन्य सभी तख्तों के जत्थेदारों ने मुख्यमंत्री से कहा कि हमें साथ मिलकर कार्यक्रम का आयोजन करना चाहिए.

ये भी पढ़ें-
Loading...

PAK में सिख लड़की को जबरन मुस्लिम बना किया निकाह, CM अमरिंदर ने इमरान से की कार्रवाई की मांग

धर्मांतरित पाकिस्तानी सिख लड़की को सुरक्षा कारणों से अदालत में पेश नहीं किया जा सका

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ (पंजाब) से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 9, 2019, 10:58 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...