पंजाब के पास सिर्फ पांच दिन की कोविड वैक्सीन, अमरिंदर ने लिखा पीएम मोदी को पत्र

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह, फाइल फोटो

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह, फाइल फोटो

Captain Amarinder Singh: कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने बताया कि कृषि कानूनों के मुद्दे पर भारत सरकार के खिलाफ व्यापक स्तर पर बढ़ रहे गुस्से के कारण अभी भी बड़ी संख्या में लोग टीकाकरण के लिए सामने नहीं आ रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 10, 2021, 5:46 PM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Chief Minister Captain Amarinder Singh) ने कहा है कि एक दिन में 85,000 से 90,000 व्यक्तियों के टीकाकरण (Vaccination) के चलते राज्य के पास सिर्फ पांच दिनों के लिए ही वैक्सीन बची है. उन्होंने केंद्र सरकार से सप्लाई ऑर्डरों के हिसाब से अगली तिमाही के लिए राज्यों के साथ वैक्सीन की सप्लाई का कार्यक्रम साझा किया जाने की मांग की है. मुख्यमंत्री ने कहा, "यदि केंद्र सरकार (Central Government) ने पांच दिन के भीतर पंजाब को कोरोना वैक्सीन (Corona vaccine) उपलब्ध नहीं करवाई तो यहां भी लोगों को वैक्सीन की किल्लत की मार झेलनी पड़ सकती है." मुख्यमंत्री ने कोविड वैक्सीन की अगली सप्लाई जल्द भेजने की उम्मीद जाहिर करते हुए कहा कि यदि राज्य एक दिन में 2 लाख टीकाकरण के निश्चित लक्ष्य को पूरा करता है तो इस हिसाब से वैक्सीन तीन दिन में खत्म हो जाएगी.

कैप्टन ने कहा कि उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi)  और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन (Union Health Minister Dr. Harsh Vardhan) को पत्र लिख कर अगली सप्लाई संबंधी कार्यक्रम साझा करने के लिए कहा है. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी द्वारा कोविड की स्थिति के बारे में विचार-विमर्श करने के लिए बुलाई गई वीडियो कांफ्रेंस के दौरान मुख्यमंत्री ने बताया कि टीकाकरण की शुरुआत धीरे होने के बावजूद पंजाब अब तक 16 लाख व्यक्तियों को कोविड की खुराक दे चुका है.

कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने बताया कि कृषि कानूनों के मुद्दे पर भारत सरकार के खिलाफ व्यापक स्तर पर बढ़ रहे गुस्से के कारण अभी भी बड़ी संख्या में लोग टीकाकरण के लिए सामने नहीं आ रहे हैं. उन्होंने कहा कि पंजाब की बड़ी आबादी कृषि भाईचारे से है और यहां तक कि आम जनता भी किसान आंदोलन से प्रभावित है. उन्होंने कहा यह गुस्सा टीकाकरण मुहिम पर प्रभाव डाल रहा है.


मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार द्वारा व्यापक स्तर पर मीडिया मुहिम चलाई जा रही है, जिससे कोविड संबंधी गलत धारणाओं के साथ-साथ टीकाकरण सम्बन्धी हिचकिचाहट को दूर किया जा सके.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज