अपना शहर चुनें

States

नए‍ विवाद में फंसे नवजोत सिंह सिद्धू, धार्मिक भावनाओं को आहत करने का लगा आरोप

नवजोत सिंह सिद्धू पर धार्मिक भावनाओं को आहत करने का आरोप लगा है. (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)
नवजोत सिंह सिद्धू पर धार्मिक भावनाओं को आहत करने का आरोप लगा है. (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

Punjab: इस मामले पर श्री अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार ने सख्त एतराज जताया है. उन्‍होंने कहा कि नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) ने बड़ी गलती कर दी है. उन्‍हें तुरंत मांफी मांगनी चाहिए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 29, 2020, 7:46 PM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. पंजाब (Punjab) के पूर्व कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) अब नए विवाद में फंस गए हैं. सिद्धू द्वारा धार्मिक निशान वाला शाल ओढ़कर शाहकोट पहुंचने पर नया विवाद खड़ा हो गया है. इस मामले पर श्री अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार ने सख्त एतराज जताया है. उन्‍होंने कहा कि नवजोत सिंह सिद्धू ने बड़ी गलती कर दी है. उन्‍हें तुरंत माफी मांगनी चाहिए.

अकाली सिख सेवादार दास परमजीत सिंह ने कहा क‍ि सियासत के तहत ही सिद्धू ने एक शाल ओढ़ी है जिसमें खंडा साहिब की फोटो है और एक ओंकार का निशान बना है. लोग कहेंगे कि ये निशान तो आम टी-शर्ट में भी मिलते हैं. मसला ये नहीं है कि गुरुवाणी का भी निशान है. अगर गुरुवाणी को लकड़ी पर भी लिख दें तो वो भी हमारे लिए पूजनीय है. अगर कोई बड़ा आदमी ऐसी गलती करता है तो फिर उसको देखकर हजारों लोग भी गलती करते हैं. इसलिए इस पर विरोध जरूरी है. इस पर हुक्मनामा भी जारी है कि ऐसा नहीं कर सकते हैं. हम सब तो गलत को गलत ही करेंगे.

ऐसा कहा जा रहा है कि नवजोत सिंह सिद्धू शाहकोट के एक गांव संढावाल में किसानों को एमएसपी के प्रति जागरूक करने आए थे. उन्‍होंने एक शाल ओढ़ी थी जिस पर खंडा और ओंकार छपा था. सिद्धू की यह तस्‍वीर इंटरनेट पर जमकर वायरल हो रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज