Home /News /punjab /

पंजाब: निहंगों ने कर्फ्यू में काट दिया था ASI हरजीत सिंह का हाथ, अब बेटा बना कांस्टेबल

पंजाब: निहंगों ने कर्फ्यू में काट दिया था ASI हरजीत सिंह का हाथ, अब बेटा बना कांस्टेबल

डीजीपी दिनकर गुप्ता ने खुद पिता को बेटे का नियुक्ति पत्र सौंपा.

डीजीपी दिनकर गुप्ता ने खुद पिता को बेटे का नियुक्ति पत्र सौंपा.

निहंगों के एक दल ने हमले के दौरान एसआई हरजीत सिंह का एक हाथ काट दिया था. लेकिन, पीजीआई के डॉक्टरों में करीब आठ घंटे के ऑपरेशन में हाथ को दोबारा जोड़ दिया था.

    चंडीगढ़. बीते दिनों पटियाला सब्जी मंडी में कर्फ्यू के दौरान निहंगों के एक दल के हमले का बहादुरी से मुकाबला करने वाले एसआई हरजीत सिंह के लिए गुरुवार का दिन बड़ी खुशखबरी लेकर आया. उनके बेटे अर्शप्रीत सिंह को पंजाब पुलिस में कांस्टेबल बना दिया गया है. डीजीपी दिनकर गुप्ता ने खुद पिता को बेटे का नियुक्ति पत्र सौंपा.

    निहंगों के एक दल ने हमले के दौरान एसआई हरजीत सिंह का एक हाथ काट दिया था. लेकिन, पीजीआई के डॉक्टरों में करीब आठ घंटे के ऑपरेशन में हाथ को दोबारा जोड़ दिया था. वहीं, हरजीत सिंह को उनकी बहादुरी के लिए सब इंस्पेक्टर के पद पर प्रमोशन मिला है.



    पुलिस के मुताबिक ‘निहंगों’ (परंपरागत हथियार रखने वाले और नीली लंबी कमीज पहनने वाले सिख) का एक समूह सफेद गाड़ी से मंडी आया. मंडी बोर्ड के अधिकारियों ने उन्हें गेट पर रोका और कर्फ्यू पास दिखाने के लिए कहा. इस पर निहंगों ने बैरीकेड तोड़ दिए और लॉकडाउन का उल्लंघन करते हुए आगे बढ़ गए. इसी बीच पुलिस पर भी हमला कर दिया.

    अस्पताल से मिली छुट्टी
    वहीं, हरजीत सिंह को शुक्रवार को पीजीआई से छुट्टी भी मिल गई. इसके पहले पंजाब के मुख्‍यमंत्री अमरिंदर सिंह ने बीते सोमवार को एक वीडियो द्वीट किया था, जिसमें उन्होंने बताया था कि पीजीआई में एसआई हरजीत सिंह के हाथ का ऑपरेशन हुए 2 हफ्ते हो चुके हैं. मुझे यह बताते हुए बेहद खुशी हो रही है कि वह ठीक हो रहे हैं और उसके हाथ फिर से हिलना शुरू हो गए हैं.

    ये भी पढ़ें: नांदेड़ से तीर्थयात्रा कर लौटे श्रद्धालुओं ने बढ़ाई पंजाब की मुसीबत, 12 घंटे में मिले 51 नए केस

    Tags: Punjab

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर