अपना शहर चुनें

States

पंजाब पुलिस ने मुख्तार अंसारी को यूपी भेजने से किया इनकार, कहा- SC में दाखिल कर देंगे जवाब

पंजाब पुलिस ने मुख्तार अंसारी को यूपी भेजने से किया इनकार (File Phot)
पंजाब पुलिस ने मुख्तार अंसारी को यूपी भेजने से किया इनकार (File Phot)

बता दें कि गाजीपुर पुलिस (Ghazipur Police) की टीम सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) का नोटिस लेकर पंजाब के रोपड़ जेल पहुंची थी

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 10, 2021, 7:18 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. पंजाब (Punjab) की रोपड़ जेल में बंद माफिया मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) को उत्तर प्रदेश लाने में पंजाब सरकार (Punjab Government) रोड़ा बन रही है. पंजाब पुलिस ने तर्क दिया कि मुख्तार अंसारी की मेडिकल रिपोर्ट के आधार पर उसे उत्तर प्रदेश नहीं भेजा जा सकता है. मुख्तार अंसारी को 2019 में लोकसभा चुनाव के पहले यूपी की बांदा जेल से पंजाब की रोपड़ जेल भेज दिया गया था. तभी से वह वहां बंद है. उसके खिलाफ गाजीपुर में कई मामले चल रहे हैं.

दरअसल सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में मुख्तार मामले को लेकर सुनवाई होनी है. उत्तर प्रदेश की योगी सरकार की माफिया विधायक मुख्तार अंसारी को कोर्ट में विचाराधीन मामले में पेश कराने की योजना पर पंजाब के रोपड़ जिले की पुलिस तथा रोपड़ जेल के अधीक्षक ने नोटिस लेने के बाद जवाब दाखिल करने की योजना बताकर गाजीपुर पुलिस को खाली हाथ भेज दिया. पंजाब पुलिस ने तर्क दिया कि मुख्तार अंसारी की मेडिकल रिपोर्ट के आधार पर उसे उत्तर प्रदेश नहीं भेजा जा सकता है.

घर से टॉयलेट जाने के लिए निकली युवती का अपहरण कर रेप, आरोपी दबंग गिरफ्तार



बीमारी के कारण बीएसपी से विधायक मुख्तार अंसारी का लम्बी यात्रा करना संभव नहीं है. बता दें कि गाजीपुर पुलिस की टीम सुप्रीम कोर्ट का नोटिस लेकर पंजाब के रोपड़ जेल पहुंची थी. यूपी पुलिस ने रोपड़ जेल अधीक्षक को नोटिस रिसीव कराया, जहां के जेल अधीक्षक ने कोर्ट में जवाब दायर करने को कहा है, मेडिकल रिपोर्ट का हवाला देकर पंजाब पुलिस ने मुख्तार अंसारी को उत्तर प्रदेश पुलिस को सौंपने से मना कर दिया.
माफियाओं के रहनुमा आज छटपटा रहे हैं - सीएम योगी
उधर, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने फर्रुखाबाद में कहा कि उत्तर प्रदेश में भय,आतंक फैलाने वालों की कोई जगह नहीं है, ये वहीं प्रदेश है जहां 2017 से पहले गुंडों, मफियाओं और अपराधियों का आतंक रहता था,लेकिन आज वहीं अपराधी, माफिया गले मे तख्ती लटका कर माफी मांग रहे हैं. उन पर हो रही कार्रवाइयों को लेकर उनके रहनुमाओं को अब परेशानी हो रही है. उन्हें बुरा लग रहा है, उनमें छटपटाहट हो रही है. क्योंकि उनके गुर्गों पर शासन का बुलडोजर चल रहा है.

मुख्यमंत्री के इस संदेश से अब साफ हो गया है कि पंजाब सरकार चाहे कितना भी कोशिश कर ले लेकिन माफिया मुख्तार अंसारी को अब ज्यादा दिन संरक्षित नहीं रख पाएगी. क्योंकि अब सुप्रीम कोर्ट में इस मामले को लेकर उत्तर प्रदेश सरकार भी हर तरीके से तैयार है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज